Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

आस्ट्रेलियन ओपन की शुरुआत में ही टेनिस पर फिक्सिंग का साया

  |  2016-01-18 17:38:16.0

tenisमेलबर्न, 18 जनवरी| दो मीडिया संस्थानों द्वारा की गई पड़ताल में टेनिस जगत के 16 पेशेवर खिलाड़ियों के फिक्सिंग में शामिल होने के सबूत मिले हैं। इससे टेनिस जगत में हड़कंप मच गया है। समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, आस्ट्रेलियन ओपन के पहले दिन ही बजफीड न्यूज और ब्रिटिश ब्रॉडकास्टिंग कॉरपोरेशन (बीबीसी) ने इस पड़ताल में फिक्सिंग का खुलासा किया है। जिन 16 खिलाड़ियों के इस मामले में शामिल होने की बात सामने आ रही है उसमें से आठ खिलाड़ी इस समय आस्ट्रेलियन ओपन में हिस्सा ले रहे हैं।


पड़ताल में काफी सारे दस्तावेज और 26,000 टेनिस मैचों पर की गई सट्टेबाजी का ब्योरा भी मिला है। सोमवार को मैच फिक्सिंग के सबूतों की फाइल को बीबीसी और बजफीड ने सार्वजनिक किया। एक यूएस ओपन चैम्पियन और विबंलडन में युगल खिताब जीतने वाले एक खिलाड़ी के उन 16 खिलाड़ियों में शामिल होने के संकेत हैं। शीर्ष 50 में शामिल एक खिलाड़ी जो इस समय आस्ट्रेलियन ओपन में हिस्सा ले रहा है, वह लगातार मैच का पहला सेट फिक्स करने के घेरे में है। खिलाड़ियों को सट्टेबाजों द्वारा मैच फिक्स करने के लिए 50,000 डॉलर का प्रस्ताव दिया जाता था।


संदिग्ध फिक्सरों की नौ सूची में 70 खिलाड़ियों के नाम सामने आए हैं। चार खिलाड़ियों पर उनके मैच हारने पर संदेह बना हुआ है। इन खिलाड़ियों ने अपना लगभग हर मैच हारा है। प्राथमिक जांच के मुताबिक इन खिलाड़ियों ने जैसा प्रदर्शन किया है वैसा प्रदर्शन 1,000 मैचों में से एक मैच में होता है। टेनिस संघों को लगातार बताने के बाद कि खिलाड़ी मैच फिक्सिंग का हिस्सा बन रहे हैं, संघों ने इसे रोकने के कदम नहीं उठाए। टेनिस अखंडता ईकाई (टीआईयू) और टेनिस संघों ने हालांकि मैच फिक्सिंग के आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया है। मैच फिक्सिंग के आरोपों के जवाब में चार टेनिस निकायों, टेनिस पेशेवर संघ (एटीपी), महिला टेनिस संघ (डब्ल्यूटीए), ग्रैंड स्लैम बोर्ड, अंतर्राष्ट्रीय टेनिस संघ (आईटीएफ) जो टीआईयू के साझेदार हैं, ने सोमवार को कहा, "भ्रष्टाचार को किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं करेंगे। उन्होंने कहा कि वह खेल की अखंडता को लेकर पूरी तरह से प्रतिबद्ध हैं।"


अपने साझेदारों की तरफ से एटीपी के कार्यकारी अध्यक्ष क्रिस केरमोड ने कहा, "भ्रष्टाचार से निपटने के लिए टेनिस पूरी तरह से तैयार है। हमने भ्रष्टाचार से लड़ने के लिए अपना तंत्र मजबूत किया है और दिखाया है कि अगर कोई हमारी अखंडता के खिलाफ जाता है तो हम उसके खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई करते हैं।" उन्होंने कहा, "कोई भी खिलाड़ी और अधिकारी जांच से नहीं बच सकता चाहे वह कोई भी हो।" उन्होंने कहा, "सारे पेशेवर खिलाड़ी, सहयोगी स्टाफ और अधिकारी टेनिस के भ्रष्टाचार रोधी प्रोग्राम के अंतर्गत आते हैं जिसके तहत हम उनसे कभी भी पूछताछ कर सकते हैं और उनके टेलीफोन, कम्पयूटर और बैंक खातों की भी जांच कर सकते हैं।"  आईएएनएस

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top