Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

ईरान समझौता मजबूत अमेरिकी कूटनीति का प्रमाण : ओबामा

  |  2016-01-18 12:00:54.0

obamaवाशिंगटन, 18 जनवरी। अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा ने ईरान के साथ अंतर्राष्ट्रीय परमाणु समझौते के पूर्ण क्रियान्वयन और ईरान द्वारा अमेरिकी कैदियों को रिहा किए जाने को अमेरिका की मजबूत कूटनीति का प्रमाण बताया है। व्हाइट हाउस की ओर से रविवार को जारी बयान में ओबामा ने कहा, "आज एक अच्छा दिन है। अमेरिकी नागरिकों को रिहा किया गया है और वे अपने परिजनों के पास लौट आए हैं और हम सभी इसका जश्न मना सकते हैं।"


अमेरिकी नागरिकों को लेकर एक विशेष विमान ईरान से स्विट्जरलैंड के लिए रवाना हो चुका है। गौरतलब है कि अमेरिका और ईरान के बीच कैदियों की अदला-बदली समझौता हुआ है, जिसमें ईरान ने वाशिंगटन पोस्ट के संवाददाता जेसन रेजायन सहित चार अमेरिकी नागरिकों को रिहा किया है।


अमेरिकी मीडिया के मुताबिक, अमेरिकी कैदियों की रिहाई के बदले अमेरिका या तो ईरान के सात कैदियों को माफी दे देगा या फिर उनके ऊपर लगे आरोप हटा लेगा। ओबामा ने कहा, "महत्वपूर्ण मुद्दे सुलझाने के लिए कई दशकों में पहली बार यह अवसर मिला है, जब ईरान सरकार के साथ सीधे तौर पर बात की गई है।"


ओबामा का यह बयान एक ऐसे समय में आया है, जब उनकी सरकार अंतर्राष्ट्रीय परमाणु समझौते के तहत ईरान पर लगी अरबों डॉलर की अतंर्राष्ट्रीय पाबंदियां हटा रही है। संयुक्त व्यापक कार्य योजना (जेसीपीओए) समझौते के तहत ईरान को प्रतिबंधों से मुक्ति मिल गई है, और इसके बदले ईरान ने अपना विवादास्पद परमाणु कार्यक्रम सीमित किया है।

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top