Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

चीन की सेना भारत का सीना रौंदती रही और प्रधानमंत्री संगीत में मस्त रहे

 Sabahat Vijeta |  2016-03-12 15:06:27.0

pramod-tiwariतहलका न्यूज़ ब्यूरो


नई दिल्ली, 12 मार्च. कांग्रेस सांसद प्रमोद तिवारी ने इस बात पर गहरे दुःख और चिंता का इज़हार किया है कि चीन की सेना लद्दाख में पांच किलोमीटर भीतर तक घुस आईं और सामरिक द्रष्टिकोण से महत्वपूर्ण उस झील तक पहुँच गईं जो देश की सुरक्षा के लिए अत्यंत संवेदनशील है. उन्होंने इसे भारत की संप्रभुता के साथ खिलवाड़ बताया.


प्रमोद तिवारी ने कहा कि लोकसभा चुनाव के दौरान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी कहते थे कि मेरा 56 इंच का सीना है. जिस दिन मैं प्रधानमंत्री बन जाऊँगा उस दिन के बाद चीन और पकिस्तान देश की सीमाओं की तरफ नज़र उठाकर देख भी नहीं सकेंगे. उन्होंने कहा कि चीन की सेना भारत की ज़मीन को पांच किलोमीटर तक रौंदती रही और मोदी जी श्री श्री रविशंकर के कार्यक्रम में अंतर्राष्ट्रीय संगीत का मज़ा लेते रहे.


श्री तिवारी ने कहा कि जब तक कांग्रेस के नेतृत्व में केन्द्र में यूपीए की सरकार थी तब तक अमरीका के साथ हमारी ऐसी दृढ़ता की नीति बनाए रखी कि अमरीका का यह साहस नहीं हुआ कि वह पकिस्तान को युद्धक विमान एफ-16 दे सके. लेकिन प्रधानमंत्री की दो बार अमरीका यात्रा करने और अमरीका के लिए पलक पांवड़े बिछाने और गणतंत्र दिवस पर अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा को मुख्य अतिथि बनाकर भारत इतना झुक गया कि आज अमरीका पाकिस्तान को एफ-16 युद्धक विमान देने जा रहा है. उन्होंने कहा कि यह भारत के हितों के खिलाफ है. इससे भारत का तीन चौथाई हिस्सा युद्धक विमान के क्षेत्र में आ जाएगा.


प्रमोद तिवारी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से सवाल किया है कि वह बताएं कि पूर्व नियोजित न होने के बावजूद उनकी पाकिस्तान यात्रा में उनकी नवाज़ शरीफ से क्या बात हुई. उन्होंने कहा कि अमरीका भारत की कमजोरी का फायदा न उठाने पाए इसलिए भारत कडा प्रतिरोध करे, इसमें कांग्रेस सरकार का पूरा साथ देगी.


श्री तिवारी ने विजय माल्या के लन्दन चले जाने पर भी सवाल उठाया. उन्होंने कहा कि भाजपा गठबंधन के सहयोग से राज्यसभा पहुंचे विजय माल्या ने सीबीआई के बदले दिशा निर्देशों का ही फायदा उठाया. उन्होंने कहा कि सीबीआई सीधे प्रधानमंत्री के नियंत्रण में होती है. ऐसे में सीबीआई ने दिशा निर्देश बदला है तो प्रधानमंत्री कार्यालय इससे खुद को मुक्त कैसे कर सकता है. उस पर उंगली उठाना तो स्वभाविक है.


प्रमोद तिवारी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर श्री श्री के कार्यक्रम में जाने को लेकर भी उंगली उठाई. उन्होंने कहा कि पर्यावरण नष्ट करने के दोषी पाए जाने पर एनजीटी ने श्री श्री पर पांच करोड़ का जुर्माना किया और राष्ट्रपति ने इस कार्यक्रम में जाने से इनकार कर दिया फिर भी प्रधानमंत्री उस कार्यक्रम में गए जो उन्हें शोभा नहीं देता.

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top