Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

जमाखोरों को लौटा दी गई ज़ब्त की गई खाद्य सामग्री

  |  2016-01-21 15:45:43.0


  • दाल और तेल जमाखोरों की जब्ती का 70 प्रतिशत माल लौटाया

  • भाजपा सरकार की ऐसी भी उदारता

  • सूचना के अधिकार से खुली सरकार की कलई 


kalabazari-2मुम्बई, 21 जनवरी. महाराष्ट्र में अरहर की दाल के दाम आसमान छूते ही राज्य सरकार ने छापामारी की और थोड़ी बहुत नहीं बल्कि 539.50 करोड़ कीमत की दाल और तेल जब्त किया लेकिन 5592 छापामारी में जब्त किये गए माल में से 70 प्रतिशत माल सरकार ने व्यापारियों को वापस लौटा दिया. भाजपा सरकार की इस उदारता की जानकारी आरटीआई कार्यकर्ता अनिल गलगली द्वारा माँगी गई सूचना पर राज्य सरकार ने दी.


आरटीआई कार्यकर्ता अनिल गलगली ने सरकार से दाल और तेल जमाखोरों से जब्त स्टॉक, कीमत, लौटाया हुआ स्टॉक, शेष स्टॉक और दर्ज एफआईआर की जानकारी मांगी थी. पहले तो जानकारी दी ही नहीं गई. माँगी गई जानकारियाँ न मिलने पर अनिल गलगली ने प्रथम अपील दायर की तो खाद्य आपूर्ति और ग्राहक संरक्षण विभाग के उप सचिव स. श्री. सुपे ने सभी जानकारी देने का आदेश अपील की सुनवाई के बाद दिए.


राज्य के 7 प्रादेशिक विभाग में 5592 स्थानों पर छापा मारकर गोडाऊन निरीक्षण किया गया उसमें दाल, तेल और तेल बीज ऐसी जीवनावश्यक वस्तुएं जब्त की गईं. दाल, तेल और तेल बीज ऐसा 1,23,028.389 मेट्रिक टन स्टॉक जब्त किया गया. उसमें से 85,547.781 मेट्रिक टन स्टॉक लौटाया गया और अब 37,480.608 मेट्रिक टन स्टॉक शेष है.


सबसे ज्यादा स्टॉक मुम्बई और ठाणे में मिला


kalabazariमहाराष्ट्र राज्य सरकार की छापामारी में सबसे ज्यादा स्टॉक मुम्बई और ठाणे में जब्त किया गया. कुल 59,731.884 मीट्रिक टन स्टॉक जब्त किया गया उसमें से 56,574.846 मीट्रिक टन स्टॉक लौटाया गया और अब सिर्फ 3,157.038 मीट्रिक टन स्टॉक शेष है. नागपुर विभाग में 7,255.520 मीट्रिक टन में से 4,939.250 मीट्रिक टन स्टॉक शेष हैं। 2,316.270 मीट्रिक टन स्टॉक लौटाया है. कोकण विभाग में 52,747.260 मीट्रिक टन स्टॉक जब्त किया गया उसमें से 29,384.329 मीट्रिक टन स्टॉक को छोड़कर 23,362.940 मीट्रिक टन स्टॉक वापस लौटाया है.


औरंगाबाद,अमरावती,पुणे और नासिक में 100 प्रतिशत स्टॉक लौटा दिया गया


औरंगाबाद, अमरावती, पुणे और नासिक में बड़े पैमाने पर स्टॉक जब्त करने के बावजूद सरकार ने शत प्रतिशत स्टॉक लौटाया है. अमरावती में 1,860.000 मीट्रिक टन स्टॉक जब्त किया वही औरंगाबाद में 1,110.470 मीट्रिक टन, पुणे में 144.989 मीट्रिक टन और नासिक में 181.666 मीट्रिक टन स्टॉक जब्त किया गया था. लेकिन पूरा का पूरा स्टॉक वापस लौटाया गया है.


अनिल गलगली ने सम्पूर्ण व्यवस्था और कार्यवाही पर आशंका जताते हुए सवाल खड़ा किया है. कि 70 प्रतिशत स्टॉक वापस क्यों लौटाया है? उसकी जांच कर वस्तुनिष्ठ और सही रिपोर्ट सरकार सार्वजनिक करे. जिस तरीके से कारवाई पर सरकार ने बवाल मचाया था उतने ही तेजी से जमाखोरों अभय देकर स्टॉक वापस लौटाने की सरकारी उदारता कई सवालों को जन्म दे रही है.

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top