Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

जल्द ही बदल जाएगा “देशद्रोह कानून”

 Tahlka News |  2016-03-17 06:17:49.0

JUSTICe deviनयी दिल्ली.” देशद्रोह” के मामले में देश में छिड़ी बड़ी बहस और जेएनयू के कन्हैया प्रकरण में देशद्रोह का मामला दर्ज किए जाने पर आलोचनाओं से रूबरू हुई केंद्र सरकार अब इस कानून में बदलाव करने को तैयार है । इस कानून को ब्रिटिश इण्डिया में बनाया गया था और अब इसे बदलने के लिए विधि आयोग ने उप समूहों का गठन किया है। बदलाव के क्षेत्रों की पहचान भी कर ली गई है।

बताया जा रहा है कि मजहब के आधार पर समाज को बांटने की कोशिश करने वालों पर भी सख्त कार्रवाई का प्रावधान तय किया जा सकता है। इन मुद्दों पर नेशनल लीगल रिफॉर्म कमेटी भी मंथन कर रही है।
केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि देशद्रोह कानून में बदलाव पर विधि आयोग की रिपोर्ट आने के बाद सभी सियासी दलों से इस मसले पर सलाह ली जाएगी। देशद्रोह से संबंधित भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 124क को एक संशोधन के जरिए 1870 में आईपीसी में शामिल किया गया था।

देशद्रोह मामले में साल 2014 में 47 मामले दर्ज हुए। देशद्रोह के आरोप में बिहार में सबसे अधिक 16 मामले दर्ज हुए और 28 लोग गिरफ्तार किए गए। बिहार के बाद झारखंड और केरल का स्थान है।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top