Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

जाट आंदोलन: मिल्क प्लांट आग के हवाले, अमोनिया गैस लीक होने का खतरा

 Tahlka News |  2016-02-20 15:06:59.0

a1तहलका न्यूज ब्यूरो
रोहतक, 20 फरवरी. जाट आरक्षण को लेकर हिंसक हो चले आंदोलन ने शनिवार को विकराल रूप धारण कर लिया है। नियम और कानून ताक पर हैं, जबकि पुलिस और प्रशासन प्रदर्शनकारियों पर काबू पाने में अब तक असफल साबित हुए हैं। सुबह से ही आगजनी और तोड़फोड़ का दौर जारी है, जिसके बाद हरियाणा के 6 शहरों में कर्फ्यू लगा दिया गया है। रोहतक और भिवानी में शुक्रवार से ही कर्फ्यू लागू है, जबकि रोहतक में उग्र भीड़ ने कानून को धता बताते हुए घरों में पथराव किया। हिसार में सेना की गाड़ी को भी प्रदर्शनकारियों ने वापस लौटने पर मजबूर कर दिया।


मिल्क प्लांट आग के हवाले
प्रदर्शनकारियों ने रोहतक में वीटा मिल्क प्लांट में भी आग लगा दी। आग लगने के कारण प्लांट से अमोनिया गैस लीक होने का खतरा है। इसके मद्देनजर आसपास के इलाके के लोगों को वहां से हटाया जा रहा है।


सेना ने किया फ्लैग मार्च
हरियाणा के छह शहरों रोहतक, भिवानी, झज्जर, सोनीपत, जींद और गोहाना में भी सेना ने शनिवार सुबह फ्लैग मार्च किया। प्रदेश के आठ जिले अब सेना के हवाले हैं। जबकि इन सब के बीच प्रदर्शन में मरने वालों की संख्या बढ़कर चार हो गई हैं। जाट आरक्षण के नाम पर दिल्ली में सियासी सरगर्मी बढ़ गई है। प्रदर्शनकारियों ने हरियाणा से आने वाली मुनक नहर का पानी रोक दिया है, जिसका सीधा असर दिल्ली की सप्लाई पर पड़ा है। दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने सीएम मनोहर लाल खट्टर से इस बाबत बात की है और बताया जाता है कि नहर की सुरक्षा के लिए सेना की तैनाती की जाएगी।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top