Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

झांसी: किसानों ने सरकारी गोदाम से लूट लिया 4 हजार किलो गेहूं

 Tahlka News |  2016-02-19 16:25:55.0

a1तहलका न्यूज ब्यूरो
बांदा, 19 फरवरी. नरैनी के एक गांव में ग्रामीणों ने राशन की दुकान में लूटपाट करते हुए कई बोरी गेहूं लूट लिया। बताया जा रहा है कि लूटपाट में करीब 4000 किलो गेहूं लूटा गया है। राशन कोटेदार ने 50 लोगों के खिलाफ कार्रवाई के लिए अफसरों से शिकायत की थी। इसके उलट मामले में जिला प्रशासन ने कोटेदार के खिलाफ ही एक्शन लिया है। कोटेदार का राशन कोटा निरस्त कर उसके खिलाफ एफआईआर के आदेश दिए गए हैं।

एसडीएम पुष्पराज का कहना है कि राशन कोटे से 86 गेहूं की बोरियां कम मिली हैं। इस मामले में काफी हेरफेर किया गया है। कोटेदार पहले भी गड़बड़ी कर चुकी हैं। वहीं, ग्रामीणों का कहना है कि कोटेदार द्वारा राशन की कालाबाजारी की जाती थी। गुरुवार देर शाम भी ऐसा ही हुआ और लोगों पर आरोप लगा दिया। कोटेदार घटतौली जैसे काम भी करती थीं।


मौके पर पहुंची थी पुलिसफोर्स
मुकेरा गांव में गुरुवार को महिला कोटेदार झुर्री देवी सहयोगी भरत त्रिपाठी से राशन बंटवा रही थीं। इसी बीच शाम करीब 6 बजे कई दर्जन लोगों ने राशन कोटे पर धावा बोल दिया और गेहूं लूटने लगे। इससे मौके पर भगदड़ मच गई। इस दौरान कुछ लोग खुला अनाज भी साथ ले गए।

क्‍यों हुई लूटपाट?
बुंदेलखंड में लगातार तीसरा सूखा है। यहां अब तक 19 सूखे पड़ चुके हैं। इस बार भी बारिश नहीं होने से बिगड़े हालात ने किसानों की कमर तोड़ दी है। एक सर्वे के अनुसार, यहां से बीते 10 साल में 62 लाख लोग पलायन चुके हैं। लोगों को फिकार (जिसे घास की रोटी कहा गया था) खाना पड़ रहा है। यही वजह है कि अब बुंदेलखंड में लूटपाट शुरू हो गई है।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top