Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

देश के कानून की इज्जत करनी चाहिए : जावेद अख्तर

  |  2015-10-14 17:02:46.0

20151014083012


तहलका न्यूज़ ब्यूरो


आजमगढ़, 14 अक्‍टूबर. प्रख्‍यात शायर कैफी आजमी की सरजमीं आजमगढ़ के मिजवां पहुंचे जावेद अख्तर और शबाना आजमी का ग्रामीणों व स्कूली बच्चों ने गर्मजोशी से स्वागत किया। जावेद अख्तर ने इस दौरान कैफी आजमी के सपनों को साकार करती मिजवां वेलफेयर सोसाइटी के चिकनकारी, सिलाई आदि कार्यो को देखा।


जावेद अख्तर ने देश में बीफ को लेकर चल रहे बवाल पर कहा कि देश प्रदेशों  के कानून को समाज के प्रत्येक नागरिको को मानने के साथ उसकी इज्जत करनी होगी यदि उसको विरोध करना है तो वह विधान सभा लोकसभा में आवाज उठा सकता है या विरोध प्रदर्शन कर सकता है, लेकिन देश को भडकाऊ भाषण देकर कोई देश के माहौल को कोई खराब नही कर सकता।


साथ ही इन दिनों देश के साहित्यकारों द्वारा साहित्य अकादमी सम्मान को वापस करने के सवाल पर उन्होने कहा कि उनके अन्दर दर्द और आवेश है और उन्होने विरोध का अपना एक तरीका निकाला यह तरीका सही है या गलत। यह एक बड़ी बहस का मुददा है। साहित्यकार ऐसा क्यों कर रहे है आज यह सोचने की जरूरत है। साहित्यकार सही कह रहा था या गलत उसे शूट करना गलत है क्योंकि साहित्यकार हिसंक तो नही होता। आप बातों को बातों से ही काट सकते हैं गोली नही मार सकते।


20151014083012 (1)


वहीं, अमर सिंह द्वारा जया बच्चन के खिलाफ दिये गये बयान पर उन्होने कहा कि कोई अपने घर में क्या कर रहा है इससे किसी को कोई मतलब नही होना चाहिए। साथ ही शबाना आजमी ने आजमगढ़ को बदनाम करने के बारे में कहा कि हमें अपने इतिहास को नही भूलना चाहिए हमारा इतिहास शानदार है आजमगढ़ की मिटटी में जन्में राहुल साकृत्यांयन, कैफी, अल्लामा शिब्ली नोमानी को नही भूलना चाहिए।


आतंकवाद और भड़काऊ बयानों पर उन्होने कहा कि भारतीयों के खून में ठहराव है क्यों कि भारतीय किसान की औलाद है और सबसे अधिक ठहराव किसान में होता है किसान हमेशा फसल बोता है उसे बड़े होने से लेकर पकने तक इंतजार करता है। इस लिए यदि कोई किसी को आतंकवाद व दुष्प्रचार तथा भड़का कर गलत दिशा की ओर ले जाता है तो अन्ततः एक दिन वापस अपने मूल रास्ते पर ही लौट कर आयेगा।


20151014083011



आजमगढ़ का नाम आतंकवाद और युवाओं के आईएसआईएस से जुड़ने के सवाल पर उन्होने कहा कि कोई भी बच्चा पैदा होते ही ऐसा नही होता कुछ लोग बे्रनवाश कर उन्हे इस ओर मोड़ रहे है उन्होने इसके पीछे सामाजिक न्याय की कमी बताया उन्होने कहा कि समाज में जब तक सही तरीके से न्याय नही होगा तो कुछ लोगों के बीच पनप रहे आवेश और आक्रोश के बहाने लोगों को बुरे रास्ते पर ले जाने में आसानी होती है।


  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top