Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

नमिता रस्तोगी की कविता

 Tahlka News |  2016-02-19 07:53:42.0

namita rastogiनमिता  रस्तोगी उन लोगों को जागरूक करने में जुटी हैं जो  दीवाली पर

लक्ष्मी गणेश को पूजते हैं और बाद में उसकी दुर्दशा होती है ,

नंदिता का कहना है कि ऐसे में उन्हें मिट्टी में खोदकर दबा देना चाहिए

जिससे हमारे देवी देवताओं का अपमान ना हो सके.


हम तुम्हें पूजते है
हमारी श्रद्धा ने तुम्हें भगवान बनाया
हमारी कल्पना ने तुम्हें रूप दिया
हमारी कामना ने तुम्हें उच्च स्थान दिया
बस
इसके आगे तुम मिट्टी हो
जब चाहें तुम्हारा आवाहन करें
जब चाहें तुम्हारा विसर्जन करें
तुम कुछ नहीं कर सकते क्योंकि
तुम्हें हमने बनाया है
बस
इस लिए ख़ुद पर कभी हँसी आती है
उससे भी ज़्यादा नई पीढ़ी के सामने ख़ुद पर शर्म आती है
कि देखें हमने अपने हमने देवी देवताओं की क्या हालत कर दी है

अपने नाथ को अनाथ बनाकर
विसर्जन के नाम पर पीपल वृक्ष के सांए में
कभी नदी मैया की गोद में छोड़ दिया
मक्खी सड़क के कुत्ते और अन्य जानवर उनकी सेवा करते हैं
कभी उनका मुँह चाटते हैं तो कभी शौच करते हैं
बस
अब हे नाथ ऐसा ना होगा
अपने देवताओं का सम्मान होगा
तुम पूजनीय हो पूजनीय रहोगे
तुम्हारा विसर्जन नहीं प्रतिष्ठा होगी
तुम ने जो कलाकार बनाया है
उसकी कल्पना में जो अपना रूप बनाया है
वो उसे प्रेरणा देगा और परिणाम सामने होगा
मेरे नाथ का अब अपमान ना होगा
सदैव उनके सामने कलाकार का मस्तक झुका होगा
वो कैसे
जगह जगह भक्तों से कहना होगा
मूर्तियों को विसर्जित ना करें
बल्कि उन्हें घर के पास वाटिकाओं में स्थ्ापित करें

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top