Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

बजट सत्र में JNU पर बहस के लिए सरकार तैयार

 Tahlka News |  2016-02-16 14:34:17.0

sarwadaliy baithak

नई दिल्ली। शीघ्र शुरू होने वाले संसद के बजट सत्र को सुचारू रूप से चलाने पर विचार-विमर्श करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा सभी प्रमुख दलों की बैठक में जेएनयू मुद्दा भी उठा. इस बैठक में सभी प्रमुख दलों के नेता मौजूद थे.

मीटिंग खत्म होने के बाद बताया केंद्रीय संसदीय मंत्री वैंकेया नायडू ने कहा कि 'बजट सेशन के दौरान सभी पार्टियां संसद की कार्यवाही को चलने देने पर सहमत है। उन्होंने आगे कहा कि प्रधानमंत्री जेएनयू विवाद समेत सभी मुद्दे पर सदन में चर्चा के लिए तैयार है।'

राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के प्रेम चंद्र गुप्ता ने बताया कि बैठक में शामिल दलों की यह राय है कि संसद का कामकाज सुचारू रूप से चलना चाहिए। बैठक में सभी दलों ने अलग-अलग मुद्दे उठाए। इसमें जेएनयू का मुद्दा उठा।


पीएम मोदी ने बैठक के दौरान कहा, ‘‘हम विपक्ष की ओर से उठाए गए मुद्दों पर प्रतिक्रिया देंगे और उनका निराकरण करेंगे, मुझे उम्मीद है कि यहां बना सौहार्दपूर्ण माहौल संसद में कार्यरूप में परिणत होगा।’’

वेंकैया ने कहा कि इस बात को लेकर आम सहमति थी कि संसद को सुचारू रूप से चलना चाहिए। जेएनयू विवाद में भाजपा जहां कांग्रेस पर ‘राष्ट्रद्रोहियों’ का समर्थन करने का आरोप लगा रही है, वहीं, राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि उनकी पार्टी ऐसे सभी छात्रों से अपने को ‘अलग’ करती है जो देश की अखंडता और संविधान को निशाना बनाकर नारेबाजी कर रहे हैं। उन्होंने साथ ही इस बात पर जोर दिया कि जेएनयू छात्र संघ के गिरफ्तार अध्यक्ष कन्हैया कुमार के खिलाफ देशद्रोह के कोई सबूत नहीं हैं।

उन्होंने कहा, ‘‘उसके खिलाफ देशद्रोह के कोई सबूत नहीं हैं।’’ आजाद ने अपने पार्टी नेतृत्व को राष्ट्रद्रोहियों के साथ जोड़कर ‘बदनाम’ करने के लिए भाजपा नेताओं को निशाना बनाया और कहा कि सरकार को उन्हें रोकना चाहिए।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top