Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

बहन जी का बर्थडे- कहीं खुशी कहीं गम

  |  2016-01-14 16:29:42.0

anubhavलखनऊ. 14 जनवरी. 15 जनवरी (शुक्रवार) को बसपा सुप्रीमो मायावती का जन्मदिन है. पार्टी के नेता और कार्यकर्ता बहन जी बधाई देने के लिए लखनऊ पहुँच चुके हैं. जाहिर है इस दिन जश्न भी मनेगा और केक भी कटेगा.


पार्टी कैडर के लिए 15 जनवरी हमेशा ही जश्न मनाने का एक मौका होता है जिसे कोई मिस नहीं करना चाहता है. इस बार भी मायावती का जन्मदिन कार्यकर्ताओं के लिए खुशी का मौका है. हालांकि इस बार की 15 जनवरी कुछ अलग है क्योंकि तमाम लोग जहां मायावती के जन्मदिन की खुशियां मनाएंगे तो वहीं पार्टी के कुछ नेताओं के लिए यह दिन खुशी से ज्यादा गम देने वाला होगा.


गम इसलिए कि इत्त्फाकान जिस दिन बहन जी का जन्मदिन की खुशियाँ परवान चढ़ेंगी. उसी दिन बसपा के 34 विधान परिषद सदस्यों की सदस्यता खत्म हो जायेगी. इनमें विधान परिषद के वर्तमान सभापति गणेश शंकर पांडेय, अरविंद कुमार त्रिपाठी, मुकुल उपाध्याय, संजीव द्विवेदी,अब्दुल हन्नान समेत कई नाम शामिल हैं जिनका विधान परिषद में कार्यकाल खत्म हो जाएगा. और इसके साथ ही इसी दिन यानी 15 जनवरी को सदन में बसपा का बहुमत भी खत्म हो जाएगा...और विधानसभा में बीएसपी सदस्यों की संख्या कम होने की वजह से इतने सदस्यों का दुबारा चुना जा पाना संभव नहीं होगा.


अब जाहिर है जिसकी सीट खाली हो रही है उसे अगर एक तरफ पार्टी मुखिया मायावती के जन्मदिन की खुशी होगी तो वहीं अपनी विधायकी जाने का गम भी ज़रूर होगा. शायद जन्मदिन के केक के बहाने तमाम लोग अपने गम को भुलाने की कोशिश करेंगे.


लेखक अनुभव शुक्ला, टीवी पत्रकार हैं

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top