Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

महिला डीएम के साथ सेल्फी खींचने पर युवक को जाना पड़ा जेल

  |  2016-02-05 11:52:19.0

bulandshahr-dm-chandrakala

तहलका न्यूज ब्यूरो
बुलंदशहर, 5 फरवरी.
उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर की महिला डीएम चंद्रकला के साथ सेल्फी लेना 18 साल के फराद को भारी पड़ गया है। 1 फरवरी को डीएम चंद्रकला के साथ सेल्फी लेने वाले सिराज को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। हालांकि, युवक के परिवारजनों के माफी मांगने के बाद डीएम ने युवक को माफ कर दिया। इसके बाद युवक जेल से बाहर आ गया। बता दें कि डीएम चंद्रकला भ्रष्टाचार के खिलाफ अपने सख्त रवैये को लेकर अक्सर ही सुर्खियों में रहती हैं।

बता दें कि फराद पुत्र इमरान सोमवार, 1 फरवरी को किसी काम से कलक्ट्रेट आया था। इसी बीच डीएम बी. चंद्रकला के साथ सेल्फी लेने के लिए वह उनके दफ्तर पर पहुंच गया और वहां उनके साथ सेल्फी लेने लगा। अपने साथ युवक को सेल्फी लेना डीएम को नागवार गुजरा। उनके इशारे पर वहां तैनात सुरक्षाकर्मियों ने युवक को हिरासत में ले लिया और फिर नगर कोतवाली पुलिस को सौंप दिया।


डीएम का कहना है कि विशाखा कानून के तहत लड़के ने उनकी इजाजत के बिना सेल्फी लेकर अपराध किया है। इस मामले में डीएम ने गुरुवार को बैठक बुलाई, जिसमें लड़के द्वारा सेल्फी लेने की घोर निंदा की गई। बैठक के बाद जारी प्रेस नोट में कहा गया कि 'सेल्फी लेना तो दूर की बात है, किसी बाहरी आदमी को किसी महिला को देखने या घूरने का भी अधिकार नहीं। इस प्रकार की घटना किसी भी हालत में बर्दाश्त करने योग्य नहीं है।


जिले के सहायक जिलाधिकारी विशाल सिंह कहते हैं, 'सभी लोगों का 100 प्रतिशत यह मत है कि सेल्फी लेने का यह जो कार्यक्रम है, यह गलत है।'

बताते चले कि एक फरवरी को बुलंदशहर की डीएम बी. चंद्रकला अपने ऑफिस में गोद लिए गांव कमालपुर के बारे में ग्राम प्रधान और अफसरों के साथ कुपोषण, शौचालय निर्माण और सड़कों के मुद्दे पर मीटिंग कर रही थीं। एक युवक खुद को ग्रामीण बताते हुए बैठक में पहुंच गया और वहां डीएम के साथ सेल्फी लेने लगा। डीएम ने मना किया तो वह नहीं माना। इसके बाद सुरक्षाकर्मियों ने उसे बाहर निकाल दिया गया। सुरक्षाकर्मियों ने डीएम की फोटो डिलीट करने को कहा तो उसने सुरक्षाकर्मियों से हाथापाई शुरू कर दी और हंगामा करने लगा। सुरक्षाकर्मियों ने उसे थाने भेज दिया। जहां से उसे शांतिभंग की धाराओं में जेल भेज दिया गया। आरोपित के चाचा इरफान ने बताया कि लड़के की गलती थी, उसे ऐसी हरकत नहीं करनी चाहिए थी। लड़के को गलती की सजा मिली है, लेकिन डीएम साहब ने उसे माफ कर दिया।


  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top