Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

मोदी को चैन से सोने नहीं दूंगा: केजरीवाल

  |  2015-10-18 18:05:24.0

kejri copy


नई दिल्ली, 18 अक्टूबर. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने राष्ट्रीय राजधानी में दो बच्चियों के हुए दुष्कर्म के मामले में रविवार को फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि वह राजधानी में बढ़ते अपराध के मुद्दे पर मोदी को चैन से सोने नहीं देंगे। उन्होंने दिल्ली पुलिस को दिल्ली सरकार को सौंपने की मांग दोहराई।


केजरीवाल ने उपराज्यपाल नजीब जंग से मुलाकात के बाद संवाददाताओं से कहा, "मैं शीला दीक्षित (दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री) नहीं हूं। मैं प्रधानमंत्री को चैन से सोने नहीं दूंगा।" आम आदमी पार्टी (आप) के नेता ने पूछा, "क्यों नहीं उन्होंने (मोदी) पीड़ित बच्चियों के घरवालों से मुलाकात की, जबकि वह विदेश जा सकते हैं।"


राजधानी में ढाई साल और पांच साल की दो बच्चियों के साथ हुए दुष्कर्म की घटना पर मचे हड़कंप के बीच केजरीवाल का यह बयान सामने आया है। केजरीवाल ने सोमवार को महिला सुरक्षा के मुद्दे पर मंथन के लिए दिल्ली कैबिनेट की बैठक बुलाई है।


दिल्ली पर 15 साल तक हुकूमत करने वाली शीला दीक्षित को 2012 में 23 साल की युवती के साथ दुष्कर्म और उसकी हत्या के मामले में जनाक्रोश का सामना करना पड़ा था।


तब दीक्षित ने यह कहते हुए अपनी परेशानी जताई थी कि वह क्या कर सकती हैं। पुलिस दिल्ली सरकार के अधीन नहीं है। यह एक ऐसा मुद्दा है जो इस वक्त भी आम आदमी पार्टी सरकार और केंद्र सरकार के बीच टकराव की वजह बना हुआ है।


केजरीवाल ने कहा कि गृह मंत्रालय के अधीन काम करने वाली दिल्ली पुलिस निष्प्रभावी हो गई है। इसीलिए अपराधियों में कोई खौफ नहीं रह गया है।


उन्होंने कहा, "दिल्ली पुलिस को हमें एक साल के लिए देकर देखिए कि हम इसे कैसे ठीक करते हैं। अगर आप हमें पूरी दिल्ली की पुलिस का प्रभार नहीं दे सकते तो कम से कम पूर्वी दिल्ली की पुलिस की ही कमान हमारे हाथ में सौंप दीजिए। अगर कानून-व्यवस्था की हालत नहीं सुधरे तो हमसे (पुलिस) वापस ले लीजिएगा।"


पश्चिमी दिल्ली में ढाई साल की बच्ची से दुष्कर्म पर उन्होंने कहा कि महिलाओं की सुरक्षा का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि एक भीड़भाड़ वाली जगह से बच्ची को अगवा कर लिया जाता है।


केजरीवाल ने जंग को बताया कि 2012 से कुल 31,000 प्राथमिकी दर्ज हुई। आरोपपत्र केवल 13,000 मामलों में दायर हुए। उन्होंने कहा कि जब कभी भी महिला के खिलाफ अपराध होता है, पुलिस मामला दर्ज करने में आनाकानी करती है। इस बीच, कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने शीला दीक्षित पर दिए गए बयान के खिलाफ केजरीवाल के सिविल लाइंस स्थित आवास के बाहर प्रदर्शन किया।

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top