Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

यूपी : बर्बाद फसल के सदमे से 2 किसानों की मौत

 Tahlka News |  2016-03-12 16:43:06.0

UTTAR_PRADESH

बांदा, 12 मार्च. उत्तर प्रदेश के बांदा जिले में सूखे के कारण फसल बर्बाद हो जाने के सदमे से किसानों की मौत का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा। शुक्रवार की शाम चहितारा और पवई गांव में एक-एक किसानों की सदमे से मौत हो गई। यह जानकारी पुलिस ने दी। अपर पुलिस अधीक्षक आशुतोष शुक्ल ने बताया कि चहितारा गांव में किसान राजाराम (75) को अचानक सीने में दर्द हुआ, इलाज के दौरान सरकारी अस्पताल में उसकी मौत हो गई।

मृत किसान के बेटे रामप्रकाश ने बताया, "पिता 65 बीघे खेतों के किसान थे, शाम को खेत से वापस आकर फसल बर्बाद होने की बात कहते-कहते उनके सीने में दर्द हुआ और अस्पताल में उनकी मौत हो गई।"

उसने बताया कि फसल बुआई के लिए पिता ने सराफा के यहां जेवरात गिरवी रखकर एक लाख रुपये का कर्ज लिया था। साथ ही इलाहाबाद यूपी ग्रामीण बैंक से किसान क्रेडित कार्ड से साढ़े तीन लाख रुपये का कर्ज पहले लिया गया था, जिसकी अदायगी बाकी है।"

बिसंडा पुलिस के अनुसार, बटाई में खेती करने वाले पवई गांव के किसान राजा प्रजापति (65) की भी अचानक से शुक्रवार की शाम मौत हो गई। उसके परिजनों का कहना है कि खुद की एक भी जमीन नहीं है, गांव के बड़े काश्तकारों की 27 बीघा खेती बटाई में ले रखी थी। बुआई और बीज के लिए गांव के साहूकारों का 40 हजार रुपये कर्ज लिया गया था। फसल सूखने के सदमे से जान गई है।

पुलिस ने दोनों किसानों के शवों को कब्जे में लेकर शनिवार को पोस्टमार्टम कराया। (आईएएनएस)

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top