Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

लखनऊ मैट्रो का 45 फीसदी काम पूरा

  |  2015-10-19 15:26:00.0


  • मुख्य सचिव की अध्यक्षता में लखनऊ मेट्रो की प्रगति समीक्षा


cs-1लखनऊ, 19 अक्टूबर. उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव आलोक रंजन ने लखनऊ मेट्रो रेल परियोजना के कार्यों की प्रगति पर सन्तोष व्यक्त करते हुए सम्बन्धित विभागों को निर्देश दिए हैं कि वे परियोजना से सम्बघित कार्यों को निर्धारित माइल स्टोन के अनुसार प्राथमिकता पर निष्पादित करायें, ताकि मेट्रो परियोजना समय से पूर्ण हो सके। उन्होंने कहा कि ट्रांसपोर्ट नगर से चारबाग तक लखनऊ मेट्रो के 8.5 किमी लम्बे प्राथमिक चरण में मेट्रो स्टेशनों के निर्माण सहित अन्य सिविल कार्य तेजी से चलने के फलस्वरूप लखनऊ मेट्रो का लगभग 45 प्रतिशत कार्य पूरा हो चुका है।

मुख्य सचिव आज लखनऊ मेट्रो रेल कापोरेशन (एल.एम.आर.सी.) की भौतिक प्रगति की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। उन्होंने चौधरी चरण सिंह अमौसी एयरपोर्ट से मुंशीपुलिया के मध्य 23 किमी लम्बे मेट्रो कोरीडोर की प्रगति की जानकारी प्राप्त करते हुये निर्देश दिये कि मेट्रो के भूमिगत संरेखण के लिए एल.एम.आर.सी. को चार वर्षों के लिए आवश्यक अस्थाई भूमि के टुकड़ों को आवश्कतानुसार समय से चिन्हित करा ली जाये, ताकि सिग्नलिंग, ट्रैक्शन, ट्रैक व दूरसंचार के कार्यों से सम्बन्धित सामग्री का
akhilesh-yadav-metro-train
भण्डारण कराने में किसी भी प्रकार की असुविधा न हो।

एल.एम.आर.सी. के प्रबन्ध निदेशक, कुमार केशव ने मुख्य सचिव के समक्ष परियोजना की प्रगति से सम्बन्धित एक प्रस्तुतिकरण करते हुए बताया कि एल.एम.आर.सी. द्वारा शासन से सिंगारनगर मेट्रो स्टेशन एवं ट्रांसपोर्ट नगर डिपो के लिए निजी भूमि के प्रकरणों का समाधान करने का अनुरोध किया गया। जिस पर मुख्य सचिव ने लखनऊ के मण्डलायुक्त महेश कुमार गुप्ता को निर्देशित किया कि वे इस मामले के निवारण हेतु यथाशीघ्र बैठक आयोजित करें।

श्री केशव ने बताया कि नार्थ-साउथ मेट्रो गलियारे के कास्टिंग यार्ड के लिए भी इस भूमि की आवश्यकता होगी। उन्होंने बताया कि नार्थ-साउथ मेट्रो गलियारे के भूमिगत एवं उपरिगामी मार्ग के लिए टेण्डर आमंत्रित किए गए हैं।

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top