Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

दीप्ति ने कहा- 'चार लड़कों ने किडनैप कर आंखों पर पट्टी बांध दी थी'

 Tahlka News |  2016-02-12 05:03:45.0

snapdeal-dipti_650x400_81455202468


तहलका न्यूज ब्यूरो
गाजियाबाद, 12 फरवरी. दिल्ली से सटे वैशाली मेट्रो स्टेशन से बुधवार को लापता हुई स्नैपडील की इंजीनियर दीप्ति सरना अपने घर पहुंच गई हैं। दीप्ति ने कहा- 'मुझे चार लड़कों ने अगवा किया था, जिसके बाद चार घंटे तक घुमाते रहे। इस दौरान मेरी आंखों पर पट्टी बंधी हुई थी। इसके बाद देर रात मुझे रेलवे स्टेशन पर छोड़ा गया।' फिलहाल गाज़ियाबाद में दीप्ति को मेडिकल टेस्ट के लिये ले जाया गया है।


वहीं, दीप्ति के पिता ने बताया कि उनकी बेटी परिवार के साथ है। वह सुरक्षित है और दीप्ति ने उन्हें बताया है कि उसके साथ कुछ गलत नहीं हुआ। दीप्ति के पिता ने यह भी बताया कि उनकी बेटी को आंख पर पट्टी बांधकर कहीं छोड़ दिया गया था। यह भी बताया गया कि दीप्ति को नशा दिया गया हो सकता है क्योंकि वह कुछ नशे की हालत में लग रही है।


एसएसपी गाजियाबाद के मुताबिक लड़की ने परिवार को खुद संपर्क किया था और बताया कि वह पानीपत में है। पूरी तरह सुरक्षित है, जिसके बाद परिवार ने पुलिस को इसकी जानकारी दी। पुलिस ने भी दीप्ति को फोन किया और उसका हाल जानने की कोशिश की। दीप्ति की मां ने भी कहा है कि उसकी बेटी सुरक्षित है और उसका सुबह फोन आया था।


बता दें कि यूपी के सीएम अखिलेश यादव ने पुलिस हेडक्वार्टर को मामले में तेजी बरतने के निर्देश जारी किए थे। अखिलेश यादव ने गाजियाबाद के एसएसपी को खुद मामले पर गौर करने और सर्च ऑपरेशन के लिए स्पेशल टीम बनाने का आदेश दिया था।


दीप्ति को लेकर स्नैपडील ने #HelpFindDipti के नाम से सोशल मीडिया पर मुहिम शुरू की थी और लोगों से अपील की थी कि दीप्ति से जुड़ी किसी भी तरह की जानकारी ट्विटर पर डाइरेक्ट मैसेज के जरिये साझा किया जाए।


बताते चले कि 24 वर्षीय दीप्ति शाम को गुड़गांव में स्थित स्नैपडील के ऑफिस से गाजियाबाद अपने घर के लिए निकली थी। रात करीब 8 बजे दीप्ति गाजियाबाद के वैशाली मेट्रो स्टेशन पर उतरी और हमेशा की तरह शेयरिंग ऑटो लेकर गाजियाबाद के बस स्टैंड की तरफ चल दी ,जहां से उसके पिता या भाई उसे अपने साथ घर ले जाते थे।


ऑटो में बैठने के बाद दीप्ति ने अपने घर पर फोन किया और बताया कि वह रास्ते मे हैं। इसके बाद उसने बैंगलुरु में अपने दोस्त को फोन किया, जिसने पुलिस को कथित तौर पर बताया कि ऑटो ड्राइवर दीप्ति को जबरन किसी दूसरी जगह ले जा रहा था और दीप्ति उसे ऐसा करने पर डांट रही थी। इसके बाद से दीप्ति का फोन बंद हो गया था।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top