Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

विशाखापट्टनम टी-20 में श्रृंखला जीतने के मकसद से उतरेगा भारत

 Tahlka News |  2016-02-13 14:56:35.0

t-20विशाखापट्टनम, 13 फरवरी| दूसरे टी-20 मैच में शानदार जीत हासिल करने वाली भारतीय टीम रविवार को जब श्रीलंका के खिलाफ तीसरा और अंतिम टी-20 मैच खेलने उतरेगी तो उसकी नजर लगातार दूसरी टी-20 श्रृंखला जीतने पर रहेगी। भारत ने रांची में शुक्रवार को हुए दूसरे टी-20 मैच में श्रीलंका को 69 रनों से करारी शिकस्त दे कर श्रंखला में 1-1 से बराबरी कर ली है। पुणे में हुआ पहला टी-20 मैच भारत हार गया था।


दूसरे टी-20 मैच में भारत ने अपनी मजबूत बल्लेबाजी का प्रदर्शन कर श्रीलंका के गेंदबाजों को पस्त कर दिया। पहले टी-20 में भारतीय बल्लेबाज 101 रनों पर ही ढेर हो गए थे, लेकिन दूसरे मैच में बल्लेबाजों ने बताया कि वह महज एक इत्तेफाक था।


सलामी बल्लेबाज शिखर धवन ने 25 गेंदों में 51 रनों की तूफानी पारी खेली। रोहित शर्मा ने भी अपनी फॉर्म का परिचय दिया। सुरेश रैना ने भी अपने बल्ले से रन बरसाए। हार्दिक पांड्या ने अंतिम ओवरों में तेजी से रन बटोरे। युवराज हालांकि दोनों मैचों में कुछ खास नहीं कर सके। उनका फॉर्म में न लौटना कप्तान महेंद्र सिंह धौनी के लिए चिंता का विषय है। कप्तान भी जानते हैं कि युवराज को इस समय लय में लौटने के लिए मौकों की जरूरत है।


अजिंक्य रहाणे का फॉर्म में ना होना भी भारतीय कप्तान के लिए परेशानी का सबब है। अगले मैच में उनकी जगह मनीष पांडेय को मौका मिल सकता है। भारतीय गेंदबाजों से कप्तान काफी खुश होंगे। दोनों ही मैचों में टीम के गेंदबाजों ने श्रीलंका के बल्लेबाजों को खासा परेशान किया।


पहले मैच में छोटे से लक्ष्य का पीछा करने उतरी श्रीलंका के पांच बल्लेबाजों भारतीय गेंदबाजों ने पवेलियन की राह दिखाई थी। अनुभवी तेज गेंदबाज आशीष नेहरा और स्टार स्पिन गेंदबाज रविचंद्रन अश्विन दोनों ने अपने अनुभव का बखूबी इस्तेमाल किया है।


आस्ट्रेलिया के बाद श्रीलंका के खिलाफ भी युवा जसप्रीत बुमराह ने अपनी गेंदबाजी से सबको प्रभावित किया है। वह विकेट लेने के साथ-साथ रन रोकने में भी कामयाब रहे हैं। अंतिम ओवरों में बुमराह भारत के लिए काफी उपयोगी साबित हुए हैं।


धौनी चाहेंगे की टीम दूसरे मैच में जिस तरह खेली थी तीसरे मैच में भी उसी तरह खेले। वहीं श्रीलंका के लिए दोनों ही क्षेत्रों में चिंता की बात है। उनकी बल्लेबाजी दोनों मैचों में खास प्रभावित करने वाली नहीं रही। गेंदबाजी पहले मैच के बाद दूसरे मैच में बेअसर रही।

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top