Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

सानिया-मार्टिना ने जीता डब्ल्यूटीए फाइनल्स खिताब

  |  2015-11-01 15:12:23.0

sania-mortin



सिंगापुर, 1 नवंबर . सर्वोच्च विश्व वरीयता प्राप्त महिला टेनिस जोड़ी भारत की सानिया मिर्जा और स्विट्जरलैंड की मार्टिना हिंगिस ने अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर अपना दबदबा कायम रखते हुए प्रतिष्ठित डब्ल्यूटीए फाइनल्स का खिताब लिया। डब्ल्यूटीए के 70 लाख डॉलर इनामी राशि वाले वर्ष के इस आखिरी टूर्नामेंट में रविवार को महिला युगल वर्ग के फाइनल मुकाबले में सानिया-मार्टिना ने स्पेन की गारबाइन मुगुरुजा और कार्ला सुआरेज नैवरो की जोड़ी को सीधे सेटों में 6-0, 6-3 से मात देकर खिताब पर कब्जा जमाया।

सानिया-मार्टिना को खिताबी जीत हासिल करने में मात्र एक घंटा सात मिनट लगे।

सानिया लगातार दूसरे वर्ष यह खिताब जीतने में सफल हुई हैं। उन्होंने पिछले साल जिम्बाब्वे की कारा ब्लैक के साथ यह टूर्नामेंट जीता था।


मैच के बाद सानिया ने कहा, "हमने कोर्ट के अंदर और बाहर पूरा आनंद उठाया। इस तरह के शीर्ष टूर्नामेंट के लिए हम पूरी जिंदगी तैयारी करते हैं और दर्शकों से भरे स्टेडियम में खेलने का मजा ही कुछ और है। हम खुद को भाग्यशाली मानते हैं। हमने साथ-साथ कुछ शानदार चीजें हासिल कीं और वर्ष के समापन का यह सबसे बेहतरीन तरीका रहा।"

सानिया-मार्टिना ने टूर्नामेंट में बिना एक भी सेट गंवाए खिताब हासिल किया है। सानिया और मार्टिना की जोड़ी का इस साल यह नौवां खिताब है, जिनमें दो ग्रैंड स्लैम खिताब भी शामिल हैं।

यह खिताब मार्टिना का 50वां डब्ल्यूटीए युगल खिताब है और यह उपलब्धि हासिल करने वाली वह दुनिया की 15वीं खिलाड़ी बन गईं।

इसी वर्ष के शुरुआत में जोड़ी बनाने वाली सानिया और मार्टिना इतनी जबरदस्त फॉर्म में चल रही हैं कि वे इस समय लगातार 22 मैच चुकी हैं।

फाइनल मुकाबले में सानिया-मार्टिना ने पहले सेट में मिले तीनों मौकों पर स्पेनिश जोड़ी की सर्विस तोड़ी और बिना एक भी गेम गंवाए पहला सेट अपने नाम कर लिया।

दूसरे सेट में भी सानिया-मार्टिना शानदार लय में थीं। दूसरे सेट में गारबाइन-कार्ला जरूर एक बार सानिया-मार्टिना की सर्विस ब्रेक करने में सफल रहीं।

खिताब जीतने पर मार्टिना ने कहा, "यह अद्भुत है। मुझे लगा जैसे आज का दिन सबकुछ बिल्कुल ठीक बीता। अभ्यास के दौरान भी हम ऊर्जा से भरे हुए थे और सानिया ने शानदार खेल दिखाया। आज के खेल में वह कोर्ट पर हर जगह दिख रही थीं, अपनी साइड में, मेरे पीछे। यह सब बिल्कुल सही जोड़ीदार चुनने वाली बात है।"


 

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top