Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

सिगरेट और शराब नहीं है फिल्म

  |  2016-01-18 15:00:49.0

vikasनई दिल्ली, 18 जनवरी| इसी महीने रिलीज हुई फिल्म 'चौरंगा' से निर्देशन के मैदान में कदम रखने वाले निर्देशक विकास रंजन मिश्रा का कहना है कि भारत केवल बड़ी बजट की फिल्में बनाने के लिए अनुकूल है। मिश्रा ने आईएएनएस को बताया, "भारत में स्वतंत्र सिनेमा का विकास हो रहा है और इसका श्रेय हमें जाता है, लेकिन यह व्यक्तिगत प्रयास होता है। कुछ निर्माता ही ऐसा उत्साह जुटा पाते हैं। जहां तक पूरी व्यवस्था की बात है तो यह केवल बड़ी बजट की फिल्मों के लिए ही अनुकूल है।"

मिश्रा ने देश में सिनेमा पर अत्यधिक कर लगाए जाने की भी आलोचना की। उन्होंने नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा, "सिनेमा हमारी संस्कृति और हमारी विरासत का हिस्सा है। यह कोई सिगरेट या शराब नहीं है, जिस पर कर लगाया जाए। सरकार को इसकी पुन: समीक्षा करनी चाहिए।"

मिश्रा ने कहा, "फिल्म के बजट का लगभग 40 प्रतिशत सेवा कर के रूप में सरकार के खाते में चला जाता है। सरकारी तंत्र का हर हिस्सा फिल्म से कुछ न कुछ निचोड़ लेता है और फिर जो बचता है सरकार उस पर भी मनोरंजन कर लगा देती है।"

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top