Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

सियाचिन हादसा: खतरे में है हनुमंतप्पा की जिंदगी, किडनी-लीवर खराब

 Tahlka News |  2016-02-10 15:07:50.0

a1तहलका न्यूज ब्यूरो
नई दिल्ली, 10 फरवरी. सियाचिन में छह दिनों तक भारी बर्फ के नीचे दबे रहे लांसनायक हनुमंतप्पा कोपड़ की हालत और बिगड़ गई है। डॉक्टरों ने उनका ताजा मेडिकल बुलेटिन जारी करते हुए बताया कि उनके कई अंग काम नहीं कर रहे हैं। उनकी किडनी और लिवन ने काम करना बंद कर दिया है। डॉक्टरों ने बताया कि उनकी हालत अब भी बेहद गंभीर है और अगले 24 घंटे उनके लिए बेहद अहम होंगे। हनुमंतप्पा के ब्रेन में है ऑक्‍सीजन की कमी है और दोनों फेफड़े निमोनिया की चपेट में हैं।


इसी बीच जांबाज लांसनायक को बचाने के लिए दो लोग आगे आए हैं. जहां एक ओर लखीमपुर खीरी जिले की एक महिला ने तो वहीं दूसरी ओर रिटायर्ड सीआईएसएफ हेड कॉन्स्टेबल प्रेम स्वरूप ने अपनी किडनी देने की पेशकश की है.


सरिता नाम की इस महिला ने कहा कि जब देश के लिये एक जवान अपनी जान दे सकता है तो क्या मैं अपनी किडनी भी नहीं दे सकती. सियाचिन में देश की हिफाजत को तैनात लांसनायक हनुमंतप्‍पा 6 मीटर बर्फ में दबकर भी जिन्दा मिले हैं, लेकिन उनकी हालत बेहद खराब है. दिल्ली के आर आर अस्पताल में उनका इलाज चल रहा है.


जानकारी के मुताबिक बिजुआ इलाके की पड़रिया तुला कस्बे में रहने वाली सरिता पाण्डे हॉउस वाइफ है. उनके पति दीपक पांडे प्राइवेट बस मैनेजर हैं. सरिता का कहना है कि किडनी देने की पहली इच्छा तो उनके पति की थी, लेकिन वह अपने कई अंग पहले ही दान कर चुके हैं, इसलिए इस बार उनको यह मौका मिला।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top