Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

23 साल के दर्द की दास्तान है सरबजीत

 Sabahat Vijeta |  2016-04-30 11:34:52.0

तहलका न्यूज़ ब्यूरो


sarbjeetलखनऊ. आने वाली 20 मई को बहुचर्चित हिन्दी फिल्म सरबजीत रिलीज़ होगी. पकिस्तान की जेल में सरबजीत के 23 साल किस दर्द के साथ बीते उसे डायरेक्टर उमंग कुमार ने किस खूबी से फिल्माया है यही इस फिल्म की ख़ूबसूरती होगी.


अपनी फिल्म के प्रमोशन के लिए आज लखनऊ आये उमंग कुमार ने बताया कि सरबजीत की कहानी में इतना दर्द है कि उसे बनाना बहुत मुश्किल था. उन्होंने बताया कि जब सरबजीत की योजना बनाई थी तब सरबजीत जिन्दा था लेकिन फिल्म शूट होते-होते सरबजीत की मौत हो गई. इसके बाद बहुत मुश्किल था. कहानी बदल चुकी थी. फिर से नई स्क्रिप्ट लिखवाई गई और सरबजीत के किरदार को परदे पर उतारने की कोशिश की गई.


उमंग कुमार ने बताया कि सरबजीत के लिए रणदीप हूडा का चयन किया गया. रणदीप भरे बदन के मज़बूत से कलाकार थे लेकिन फिल्म की कहानी सुनने के बाद उन्होंने 28 दिन में अपना 18 किलो वज़न घटाया और खुद को उस किरदार के लिए फिट बनाया. एश्वर्या राय बच्चन, ऋचा चड्ढा और दर्शन कुमार सभी ने अपने-अपने किरदार के साथ इन्साफ किया.


फिल्म में सरबजीत के वकील का किरदार निभाने वाले दर्शन कुमार ने बताया कि यह किरदार बहुत मुश्किल था. इस किरदार को निभाने से पहले पाकिस्तान में वकीलों के बिहैवियर को परखा. यू-ट्यूब पर पाकिस्तान के वकीलों की बहस का तरीका समझा. पाकिस्तान में उर्दू और पंजाबी की मिलीजुली ज़बान बोली जाती है. उस ज़बान को समझने में जो वक्त लगा और करेक्टर को पकड़ने में जो वक्त लगा बस वही मुख्य था. बाकी तो धीरे-धीरे होता गया.


सरबजीत में अहम रोल निभाने वाली ऋचा चड्ढा ने बताया कि यह फिल्म हिन्दुस्तान-पाकिस्तान की सियासत में फंसे लोगों की कहानी सुनाएगी. उन्होंने कहा क्योंकि मैं पंजाबी हूँ इसलिए इस फिल्म में मुझे अपनी पंजाबियत प्रूफ करने की ज़रुरत नहीं पड़ी. उन्होंने कहा कि सरबजीत में न्यूज़ के पीछे का सच दिखेगा. पकिस्तान की जेल में उसने जो महसूस किया और जो दर्द झेला वह दिखेगा इस फिल्म में.

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top