Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

हेडली ने कबूला- हाफिज सईद की शह पर हुआ 26/11

 Tahlka News |  2016-02-08 03:51:38.0

102793-458283-david-headley

तहलका न्यूज ब्यरो
मुंबई, 8 फरवरी. 26/11 हमलों की साजिश रचने वाले आतंकी डेविड हेडली की मुंबई के स्पेशल कोर्ट में गवाही जारी है। ऐसा पहली बार है कि विदेश की किसी जेल में बंद आतंकी की पेशी भारतीय कोर्ट में हो रही है। अमेरिका के शिकागो से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए पहली बार हेडली इस मामले में गवाही दे रहा है।


हमले को लेकर कोर्ट में हेडली से सवाल-जवाब जारी हैं। इस दौरान डेविड हेडली ने कोर्ट के सामने कबूल किया कि  26/11 हमला जमात-उद-दावा कमांडर हाफिज सईद की शह पर हुआ था। हेडली ने कहा कि वह हाफिज सईद से प्रभावित था, वह उसकी तकरीरों को सुनता था और उनसे खासा प्रभावित था। हेडली ने कहा कि वह 2002 में लश्कर-ए-तैयबा से जुड़ा था। हेडली ने कहा कि डा. तहव्वुर हुसैन राणा ने उसे भारतीय वीजा दिलाने में मदद की थी। हेडली ने कहा कि पंजाब सूबे के एक स्कूल में उसकी राणा से मुलाकात हुई थी।


उसन बताया कि साजिद मीर नाम के शख्स ने उसे भारतीय पासपोर्ट उपलब्ध कराया था। उसने कोर्ट से अपने बचपन, स्कूली दिनों, कॉलेज की पढ़ाई से लेकर पाकिस्तान में दी गई आतंकी ट्रेनिंग का भी जिक्र किया है। डेविड हेडली ने मुंबई कोर्ट को बताया कि वह हमले से पहले 8 बार भारत आया था।


हेडली ने बताया कि मैंने अपना नाम बदल लिया था ताकि मैं भारत में प्रवेश कर सकूं। मैं भारत में किसी अमेरिकी नाम के साथ आना चाहता था। उसने नाम बदलने के बारे में अपने सहयोगी लश्कर-ए-तैयबा के साजिद मीर को बताया था। डेविड हेडली ने स्वीकार किया कि उसने भारत में घुसने के लिए फर्जी पासपोर्ट बनवाने के बाद उसने आठ बार भारत की यात्रा की थी। इस दौरान 7 बार वह मुंबई आया था। डेविड हेडली ने आखिरी बार 2009 में मुंबई का दौरा किया था। इसका मतलब 26/11 हमले के बाद भी आतंकी डेविड हेडली भारत आया था। हेडली ने अदालत के सामने स्वीकार किया कि मैं लश्कर-ए-तैयबा का कट्टर समर्थक रहा हूं।


बता दें कि स्पेशल कोर्ट में हेडली की ओर से वरिष्ठ वकील राम जेठमलानी के बेटे महेश जेठमलानी पैरवी कर रहे हैं। वहीं, आतंकी अबू जुंदाल के वकील ने कोर्ट से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए हो रही इस पेशी और गवाही को रोकने की मांग की है।


बताते चले कि हेडली को उसे 26-11 के मुंबई आतंकी हमलों के मामले में सरकारी गवाह बनाया गया है। वह साजिश के बारे में नये खुलासे कर सकता है।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top