Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

अंतिम संस्कार के बाद उसने फोन पर भाई की खैरियत पूछी

 Sabahat Vijeta |  2016-08-03 14:26:02.0

chita
भोपाल. वह अपने जिस छोटे भाई की चिता को अग्नि देकर घर लौटा उसी भाई ने जब फोन पर उसकी और परिवार के दूसरे लोगों की खैरियत पूछी तो वह यह समझना बहुत मुश्किल हो गया कि आखिर सच क्या है जो अभी कुछ देर पहले शमशान पर पर हो रहा था वह सच था या फिर यह सच है जो अभी घटित हो रहा है.


यह मामला मध्य प्रदेश के मंदसौर जिले के नाहरगढ़ क्षेत्र के गाँव भिलयाखेड़ी में रहने वाले नागुलाल से जुड़ा है. नागूलाल काम के सिलसिले में अपने घर से निकलकर गुजरात के सूरत में गया हुआ था. काफी समय से उसकी अपने परिवार के लोगों से बातचीत नहीं हुई थी और उसका कोई नंबर भी परिवार के पास नहीं था. कुछ दिन पहले उसके घर सूरत से पुलिस का फोन आया. पुलिस ने बताया कि किसी ने नागुलाल की हत्या कर दी है. इस खबर से उसके घर में रोना-पीटना मच गया. उसका बड़ा भाई गंगाराम सूरत पहुंचा और बहुत खराब दशा में मिले शव को लेकर वापस अपने गांव आ गया.


गांव में आज नागुलाल का पूरे विधि-विधान से अंतिम संस्कार किया गया. भारी मन से गंगाराम ने अपने छोटे भाई की चिता को अग्नि दी. अंतिम संस्कार के बाद गंगा राम वापस घर पहुंचा तो उसके फोन पर उसके छोटे भाई नागुलाल ने फोन किया और परिवार का हालचाल लेने लगा.


इस फोन के आने के बाद हतप्रभ गंगाराम चिल्लाया कि तुम हो कहाँ. इतने दिन से बात क्यों नहीं की. नागुलाल ने बताया कि वह नीमच में है. काम में फंसे होने की वजह से बात नहीं कर सका. इस फोन के आने के फ़ौरन बाद गंगाराम और उनके कुछ रिश्तेदार सच्चाई जानने के लिए नीमच रवाना हो गए हैं.


मंदसौर के पुलिस अधीक्षक मनोज शर्मा ने इस सम्बन्ध में कहा कि फिलहाल मंदसौर पुलिस गंगाराम के नीमच से लौटने का इंतज़ार कर रही है. हकीकत सामने आने के बाद सूरत पुलिस के अधिकारियों से सम्पर्क किया जायेगा, ताकि यह पता चल सके कि गंगाराम के परिवार को नागुलाल के नाम पर सौंपा गया शव किसका था.

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top