Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

आगरा कॉलेज के प्राचार्य डॉ मनोज रावत हटाये गए

 Sabahat Vijeta |  2016-08-11 13:34:29.0

agra-college

आगरा. आगरा कॉलेज के प्राचार्य डॉ मनोज रावत को हटा दिया गया है. उनके स्थान पर डॉ एके गुप्ता प्राचार्य बनाए गए हैं. डॉ मनोज रावत आगरा कॉलेज में केमिस्ट्री विभाग में एसोसिएट प्रोफेसर के पद पर कार्य करेंगे.

सुप्रीम कोर्ट ने आगरा कॉलेज सहित प्रदेश के 156 प्राचार्यों की नियुक्ति रद्द कर दी थी, इसके बाद से प्राचार्य डॉ मनोज रावत को हटाए जाने के लिए कॉलेज के शिक्षकों का एक गुट मांग कर रहा था. इसे लेकर कई बार कमिश्नर और डीएम से भी शिकायत की गई थी. बुधवार को उच्च शिक्षा निदेशक ने प्राचार्य को हटाने और वरिष्ठ शिक्षक डॉ. ए.के. गुप्ता को प्राचार्य बनाए जाने के आदेश जारी किए. इसके बाद प्राचार्य कार्यालय में डॉ एके गुप्ता को बुलाकर चार्ज दे दिया गया. इस पर विवाद खड़ा न हो जाए, इसके लिए अन्य शिक्षकों को इसकी जानकारी नहीं दी गई.


डॉ एके गुप्ता, केमिस्ट्री विभाग से चौथे प्राचार्य

डॉ एके गुप्ता 59 साल के हैं. उनके पिता लक्ष्मण प्रसाद गुप्ता भी आगरा कॉलेज में रहे हैं. डॉ एके गुप्ता ने बीएससी, एमएससी और पीएचडी आगरा कॉलेज से ही की है. इसके बाद 1981 से आगरा कॉलेज में पढा रहे हैं. 1987 से कमीशन से आगरा कॉलेज में उनकी स्थायी नियुक्ति हुई. डॉ. एके गुप्ता से पहले आगरा कॉलेज में केमिस्ट्री विभाग के डॉ. एसएन श्रीवास्तव, डॉ. मुख्यातर सिंह, डॉ. मनोज रावत और अब डॉ एके गुप्ता प्राचार्य बने हैं.

प्राचार्य पद के लिए होने लगी थी गुटबाजी

आगरा कॉलेज में प्राचार्य पद को लेकर काफी समय से गुटबाजी चल रही थी, शिक्षकों का एक गुट डॉ. एके गुप्ता को प्राचार्य बनाना चाहता था. जबकि दूसरे गुट की तरफ से डॉ. नरेंद्र यादव प्राचार्य के लिए दावेदारी कर रहे थे. इसे लेकर शिक्षक आमने सामने आ रहे थे. इस वजह से डॉ. एके गुप्ता को शाम को गुपचुप तरीके से प्राचार्य पद का चार्ज दिया गया, जिससे शिक्षकों का दूसरा गुट इसका विरोध ना कर सके.

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top