Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे जैसा सड़क मार्ग इतने कम समय में किसी भी प्रदेश में नहीं बना 

 Sabahat Vijeta |  2016-11-12 15:08:05.0

akhilesh-hindustan




  • समाजवादी लोग समाज का विकास चाहते हैं: मुख्यमंत्री

  • लखनऊ मेट्रो रेल का निर्माण बहुत कम समय में किया गया

  • विकास कराने वाली सरकार को दोबारा मौका मिलना चाहिए, ताकि वह बचे हुए विकास कार्याें को पूरा करते हुए नये विकास कार्य लागू कर सके

  • समाजवादी सरकार ने नौजवानों को रोजगार दिलाने के लिए बड़े पैमाने पर काम किया


लखनऊ. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि समाजवादी लोग समाज का विकास चाहते हैं। वर्तमान समाजवादी सरकार ने अपने अब तक के कार्यकाल में प्रदेश के विकास के लिए ही कार्य किया है। उत्तर प्रदेश में जितना विकास वर्तमान सरकार ने किया है उतना किसी अन्य राज्य सरकार ने अपने प्रदेश में नहीं किया है। आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे जैसा सड़क मार्ग इतने कम समय में किसी भी प्रदेश में निर्मित नहीं हुआ है। मेट्रो रेल परियोजनाओं में सबसे अधिक संख्या में काम उत्तर प्रदेश में हो रहा है। लखनऊ में मेट्रो रेल चलाने की कार्रवाई बहुत तेजी से की जा रही है और इसका निर्माण बहुत कम समय में किया गया है। शीघ्र इसका ट्रायल होगा, जिसके बाद मेट्रो रेल का संचालन शुरू किया जाएगा। प्रदेश के अन्य शहरों जैसे वाराणसी, कानपुर में भी मेट्रो चलाने की दिशा में काम हो रहा है।


मुख्यमंत्री ने यह विचार आज यहां होटल ताज विवांता में आयोजित ‘हिन्दुस्तान शिखर समागम’ को सम्बोधित करते हुए व्यक्त किए। उन्होंने कहा कि जो सरकार विकास करे उसे फिर से मौका मिलना चाहिए, ताकि वह अपने बचे हुए विकास कार्य पूरे कर सके और नये विकास कार्य लागू कर सके। राज्य सरकार द्वारा जहां एक ओर विकास योजनाएं लागू की गईं, वहीं दूसरी ओर जनहितकारी योजनाएं भी लागू की गईं। समाजवादी पेंशन योजना के माध्यम 55 लाख गरीब परिवारों की महिला मुखिया को लाभान्वित किया जा रहा है। विद्यार्थियों में 18 लाख निःशुल्क लैपटाॅप वितरित किए गए हैं, जिसका लाभ दूर-दराज के ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले छात्र-छात्राओं को भी मिला है और अब वे अपने सपनों को पूरा कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि समाजवादी स्मार्ट फोन योजना के तहत निःशुल्क फोन पाने के लिए अब तक 70 लाख लोगों ने रजिस्ट्रेशन करवाया है। इसके माध्यम से दूर-दराज के रहने वालों का जीवन आसान हो जाएगा।


श्री यादव ने कहा कि समाजवादी सरकार द्वारा नौजवानों को रोजगार दिलाने के लिए बड़े पैमाने पर काम किया गया है। कौशल विकास मिशन के तहत एक महीने के अन्दर ही 20 हजार से ज्यादा नौजवानों को रोजगार मुहैया कराया गया। जबकि 70 हजार भर्तियां पुलिस विभाग में की गई हैं। इसके अलावा, 01 लाख 60 हजार शिक्षा मित्रों को भी रोजगार मुहैया कराया गया। बिजली विभाग में भी बड़े पैमाने पर भर्तियां की गई हैं।


मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार ने पूरे प्रदेश में सड़क, पुल, आर.ओ.बी. तथा फ्लाईओवरों का बड़े पैमाने पर निर्माण करवाया है। इसके साथ ही, जिला मुख्यालयों को 04-लेन की सड़कों से जोड़ा गया है। राज्य की बिजली आपूर्ति की दिशा में बेहतरीन कार्य किया गया है। नये बिजलीघर स्थापित किए गए हैं, साथ ही साथ केस-1 बिडिंग के माध्यम से बिजली खरीदी जा रही है। ऐसे में अब प्रदेश में प्रचुर मात्रा में बिजली उपलब्ध है। इसके कारण अब जिला मुख्यालयों, मण्डल मुख्यालयों, महानगरों व औद्योगिक क्षेत्रों को 24 घण्टे, तहसीलों एवं बुन्देलखण्ड क्षेत्र को 20 घण्टे तथा ग्रामीण क्षेत्रों में 18 घण्टे बिजली मिल रही है।


श्री यादव ने कहा कि लोगों को अच्छी स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध कराने की दिशा में बहुत कार्य किया गया है। पिछली सरकार के कार्यकाल के दौरान प्रदेश का विकास पूरी तरह से ठप हो गया था, इससे स्वास्थ्य सेवाएं सर्वाधिक बाधित हुई थीं। वर्तमान राज्य सरकार द्वारा लागू की गई ‘108’ समाजवादी स्वास्थ्य सेवा तथा ‘102’ नेशनल एम्बुलेन्स सर्विस का भरपूर लाभ प्रदेश की जनता को मिल रहा है। राज्य सरकार ने प्रदेश के अस्पतालों में सभी प्रकार की जांचें निःशुल्क उपलब्ध कराने की व्यवस्था की है, जिसका लाभ गरीबों के साथ-साथ सभी वर्गों को भी मिल रहा है। प्रदेश में नये सरकारी मेडिकल काॅलेज स्थापित किए गए हैं। एम.बी.बी.एस. की सीटों में अभूतपूर्व वृद्धि की गई है। राज्य दुग्ध उत्पादन, गन्ना तथा को-जनरेशन के मामले में अग्रणी प्रदेश है।


मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा विकास तथा जनहित के लिए लागू की गई इन योजनाओं से यह स्पष्ट है कि प्रदेश का जितना विकास समाजवादियों ने किया है उतना किसी ने नहीं किया। कार्यक्रम के दौरान 500 और 1000 रुपये के पुराने नोटों को बन्द किए जाने के सम्बन्ध में पूछे गए एक प्रश्न के उत्तर में उन्होंने कहा कि वे कालेधन के खिलाफ हैं लेकिन भारत सरकार के इस फैसले के कारण गरीबों, मजदूरों, किसानों, वेतनभोगियों, छोटे व्यापारियों, महिलाओं इत्यादि को अनावश्यक परेशान न होना पड़े यह भी सुनिश्चित किया जाए। प्रदेश के कई जिलों में नमक की कमी की अफवाह के सम्बन्ध में उन्होंने कहा कि नमक सहित किसी भी खाद्य पदार्थ की प्रदेश में कोई कमी नहीं है। उन्होंने लोगों से नमक की अनावश्यक खरीद न करने की अपील भी की। उन्होंने बताया कि प्रशासन को ऐसी अफवाह फैलाने वालों को चिन्हित करते हुए उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए गए हैं।


कार्यक्रम के दौरान राजनैतिक पेंशन मंत्री राजेन्द्र चौधरी, मुख्यमंत्री के मुख्य सलाहकार आलोक रंजन, मुख्य सचिव राहुल भटनागर और प्रमुख सचिव सूचना नवनीत सहगलआदि मौजूद थे.

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top