Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

सावधान: गलत आय दिखाने वालों के लिए नया नियम ला सकती है मोदी सरकार

 Abhishek Tripathi |  2016-11-24 03:36:30.0

modiतहलका न्यूज ब्यूरो
नई दिल्ली. नोटबंदी के एलान के बाद से बैंकों के खातों में करोड़ों रुपये जमा हो रहे हैं। नियमों के तहत अगर जमा करने वाले ने आयकर रिटर्न में पूरी रकम अपनी मौजूदा साल की आमदनी में दिखा दी, तो उस पर सिर्फ तीस फीसदी टैक्स ही लगाया जा सकता है। सरकार ऐसे लोगों पर सख्ती बरतने के लिए बजट में कोई नया प्रावधान ला सकती है।


8 नवंबर को पीएम मोदी के नोटबंदी के एलान के बाद से अब तक देश भर में करीब 20 करोड़ रुपये के नोट पकड़े गए हैं। ये वो नोट हैं जिन्हें लोग लेकर इधर-उधर भागा रहे थे। आयकर विभाग इन लोगों से पूछ रहा है कि उनके पास ये रकम आई कहां से। लेकिन जानकारों का मानना है कि अगर किसी के पास अपनी मेहनत की कमाई के पैसे हैं, तो उसे परेशान होने की कोई जरूरत नहीं है।


आयकर विभाग के जानकारों के मुताबिक अगर आपके पास अपनी मेहनत के करोड़ों के नोट भी पड़े हैं तो आपको घबराने की जरूरत नहीं है। आप इस पैसे को सीधे अपने खाते में जमा करा कर अपना आयकर रिटर्न दाखिल करते हैं तो आप पर आयकर विभाग 200 प्रतिशत की पैनल्टी तब तक नहीं लगा सकता जब तक कि ये साबित ना हो जाए कि आपके पास काला धन है।


आय़कर विभाग के नियमों के मुताबिक किसी पर जुर्माना तभी लगाया जा सकता है, जब उसने टैक्स की चोरी करने या आमदनी छिपाने की कोशिश की हो। मिसाल के तौर पर अगर किसी ने 5 लाख रुपये की आमदनी दिखाई है, लेकिन आयकर अधिकारी की निगाह में सही आय 7 लाख है, तो 2 लाख की छिपाई गई आय पर टैक्स और जुर्माना दोनों भरना होगा।


आयकर विभाग के नियमो के मुताबिक, अगर आप अपने आयकर अधिकारी को अपने पैसे का सोर्स नहीं बताना चाहते तो वो आपके खिलाफ कोई जुर्माना नहीं लगा सकता लेकिन आपके केस को दूसरी जांच एजेंसियो के पास जांच के लिए भेज सकता है कि आपके पास पैसा कहां से आया।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top