Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

इतिहास की सबसे बड़ी क्रॉस वोटिंग के बाद, UP में राज्यसभा के लिए वोटिंग शुरू

 Anurag Tiwari |  2016-06-11 04:11:07.0

विधान सभातहलका न्यूज़ ब्यूरो

लखनऊ. शुक्रवार को विधान परिषद् के लिए हुए एमएलसी चुनावों में उत्तर प्रदेश के संसदीय इतिहास में अबतक की सबसे बड़ी क्रॉस वोटिंग हुई। इस दौरान 25 से ज्यादा विधायकों ने पार्टी व्हिप को तोड़कर क्रॉस वोटिंग की। क्रॉस वोटिंग की इस ऐतिहासिक घटना के बाद शनिवार सुबह नौ बजे राज्यसभा के लिए वोटिंग शुरू हो चुकी है।

माया रहीं फायदे में

क्रॉस वोटिंग का सबसे बड़ा फायदा मायावती को मिला। मायावती को क्रॉस वोटिंग में 14 अतिरिक्त वोट मिले। बीजेपी को क्रॉस वोटिंग से 9 अतिरिक्त वोट मिले। वहीँ सपा के साथ आने की संभावना जताने वाली आरएलडी के सभी वोट क्रॉस कनेक्शन का शिकार हुए। इस पूरी सियासी धमा-चौकड़ी में क्रॉस वोटिंग का सबसे बड़ा नुकसान सत्ताधारी पार्टी सपा को हुआ। सपा के 6 से ज्यादा वोट क्रॉस कनेक्शन में गए। इसके चलते राज्यसभा चुनाव के लिए सभी दलों में परेशानी बढ़ी हुई है।


ये हैं मैदान में

राज्यसभा के लिए समज्वादी पार्टी के 7, बसपा के 2, बीजेपी और कांग्रेस के 1-1 कैंडिडेट और बीजेपी समर्थित निर्दल प्रत्याशी भी मैदान में। सपा से बेनी वर्मा, अमर सिंह, संजय सेठ, सुखराम सिंह यादव, रेवती रमण सिंह, विशम्भर प्रसाद निषाद और सुरेंद्र नागर कैंडिडेट हैं। बीजेपी से शिवप्रताप शुक्ल,कांग्रेस से कपिल सिब्बल, बसपा से सतीश चंद्र मिश्र और अशोक सिद्धार्थ और बीजेपी के समर्थन से निर्दल प्रत्याशी के रूप में प्रीति महापात्रा भी मैदान में। आज देरशाम राज्यसभा चुनाव के नतीजे भी आ जाएंगे।



  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top