Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

यूपी के विकास में सपा-बसपा सबसे बड़ी बाधा : अमित शाह

 Sabahat Vijeta |  2016-12-16 14:46:02.0

amit-shah-eta


लखनऊ / एटा. भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने एटा में आयोजित परिवर्तन रैली में कहा कि समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी उत्तर प्रदेश के विकास में सबसे बड़ी बाधा है. उन्होंने कहा कि यूपी में सपा-बसपा सांपनाथ-नागनाथ की तरह है. बुआ-भतीजा उत्तर प्रदेश का विकास कर ही नहीं सकते. उन्होंने कहा कि यूपी की जनता ने सपा-बसपा को 15 साल मौक़ा दिया लेकिन इन्होंने इन 15 सालों में सिर्फ और सिर्फ भ्रष्टाचार किया, भ्रष्टाचार के अलावा कुछ भी नहीं किया.


अमित शाह ने कहा कि यदि उत्तर प्रदेश में भ्रष्टाचार रोकना है तो नरेन्द्र मोदी के हाथ मजबूत कर राज्य में भारतीय जनता पार्टी की पूर्ण बहुमत की सरकार बनानी होगी. उन्होंने दावा किया कि यूपी में बदलाव केवल भाजपा ही कर सकती है.


भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी यूपी से ही चुनकर आये हैं, वह उत्तर प्रदेश का विकास करना चाहते हैं लेकिन राज्य की सपा सरकार प्रधानमंत्री द्वारा शुरू की गई अनगिनत लोक-कल्याणकारी योजनाओं को राज्य की जनता तक पहुँचने ही नहीं देती.


amit-shah-eta-2


उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने हर वर्ष उत्तर प्रदेश को विकास के लिए कांग्रेस-नीत यूपीए सरकार की तुलना में लगभग एक लाख करोड़ रुपया ज्यादा दिया लेकिन यह रुपये कहाँ गए, इसका कोई हिसाब नहीं है.


अमित शाह ने कहा कि अखिलेश, मायावती, राहुल, केजरीवाल, ममता सब के सब नोटबंदी की माला जप रहे हैं. 7 नवम्बर तक यह सारे मोदी जी से पूछते थे कि मोदी जी, आपने कालेधन के लिए क्या किया, आज पूछते हैं कि मोदी जी, कालेधन के लिए आपने यह क्यों किया. उन्होंने कहा कि नोटबंदी से नुकसान उनका हुआ है जिनके घर में रखा अरबों-खरबों का भ्रष्टाचार से अर्जित रुपया रद्दी में बदल गया है.


उन्होंने कहा कि अखिलेश, मायावती, राहुल, केजरीवाल, ममता सबके चेहरे का रंग बदल गया है. बहन जी के चेहरे पर हवाइयां उड़ रही हैं. अखिलेश जी को कोई होश नहीं है. ममता जी तिलमिलाई हुई हैं और राहुल गांधी तो हर रोज पैदल मार्च निकाल रहे हैं.


कांग्रेस उपाध्यक्ष को सलाह देते हुए अमित शाह ने कहा कि राहुल गांधी को यदि आपको मार्च ही निकालना है तो रोजगार के लिए निकालिए, भुखमरी से लड़ाई के लिए निकालिए, गाँवों तक बिजली पहुंचाने के लिए निकालिए. गाँवों की सड़कें बनाने के लिए निकालिए, काले धन को बचाने के लिए तो मत निकालिए.


उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने जो नोटबंदी का यह कदम उठाया है, उससे सारे के सारे काले-धन पर 75% से 85% तक पेनाल्टी देना होगी. इस पेनाल्टी से प्राप्त पाई-पाई को इस देश के गाँव, गरीब, किसान, दलित, पिछड़े और युवाओं के लिए खर्च किया जाएगा. उन्होंने कहा कि आज एटा की धरती पर मैं बाबू कल्याण सिंह को याद कर रहा हूँ क्योंकि उनके शासन में उत्तर प्रदेश में गुंडे दिखते नहीं थे, वे या तो जमीन के अंदर थे या फिर राज्य के बाहर.

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top