Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

गुजरात में एक बार फिर 20 दलितों पर जानलेवा हमला, पुलिस ने किया लाठीचार्ज

 Abhishek Tripathi |  2016-08-16 02:48:28.0

dalit_attackतहलका न्यूज ब्यूरो
अहमदाबाद. गुजरात के गिर सोमनाथ जिले के उना शहर में एक प्रदर्शन रैली से घर लौट रहे 20 दलितों के एक समूह पर समतर गांव के पास भीड़ ने हमला कर दिया। हमले में 8 दलित गंभीर रूप से घायल हो गए। पुलिस ने भीड़ को भगाने के लिए आंसू गैस के गोले दागे और हल्का लाठी चार्ज भी किया। हालांकि पीड़ितों का दावा है कि पुलिस ने उनकी मदद के लिए कुछ नहीं किया। पीड़ितों का दावा है कि हमलावर समतर गांव के निवासी हैं। वे लोग पिछले महीने उना में दलितों की पिटाई करने की घटना को लेकर गिरफ्तार हुए 12 लोगों का बदला लेना चाहते थे।


बता दें कि घटना के 20 पीड़ित भावनगर जिले के हैं और वे साइकिल और बाइक से अन्य लोगों के साथ उना गए थे। ये लोग जेएनयू छात्र संघ के अध्यक्ष कन्हैया कुमार की उपस्थिति में रोधिका वेमुला और बालु सरवैया द्वारा राष्ट्रीय ध्वज फहराने के कार्यक्रम में शामिल होने गए थे। राधिका वेमुला, हैदराबाद केन्द्रीय विश्वविद्यालय में आत्महत्या करने वाले दलित छात्र की मां हैं जबकि बालु उना में पिटाई झेलने वाले दलितों में से एक के पिता हैं।


वहीं, भीड़ ने उना-भावनगर रोड पर उन्हें समतर के पास रोका और उनकी पिटाई की। यह जगह मोटा समधिया गांव से ज्यादा दूर नहीं है1 जहां पिछले महीने गौ-रक्षकों ने सात दलितों की बुरी तरह पिटाई की थी।


ऐसे में गिर सोमनाथ पुलिस नियंत्रण कक्ष के एक अधिकारी ने कहा, समतर में आज शाम पुलिस ने हिंसक भीड़ को भगाने के लिए आंसू गैस के गोले दागे। जब उन्होंने भागने से इनकार कर दिया, तो लाठी चार्ज भी किया गया।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top