Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

इन Beauty Courses से दें अपने करियर को पंख

 Girish Tiwari |  2016-06-05 06:29:48.0

download (1)
नई दिल्ली. सौंदर्य के क्षेत्र में करियर बनाकर आप अपने आत्मविश्वास और आत्मसम्मान में इजाफा कर सकते हैं। एस्थेटिशियन, कॉस्मेटोलोजिस्ट और एल्प्स ब्यूटी एकैडमी एंड ग्रुप की संस्थापक निदेशक भारती तनेजा के मुताबिक, "इन दिनों सौंदर्य और मेकअप के कई पाठ्यक्रम उपलब्ध हैं। ऐसे में अपने लिए एक सही पाठ्यक्रम ढूंढना आसान नहीं है।"

भारती ने सौंदर्य से जुड़े कुछ पाठ्यक्रमों के बारे में जानकारी दी है :

मेकअप की कला : इस पाठ्यक्रम से चेहरे की वे सभी समस्याएं दूर करने में मदद मिलती है, जिनका लोग सामना करते हैं और जिन्हें दूर करना चाहते हैं जैसे कि डबल चिन, सपाट नाक और अन्य प्राकृतिक या चोट के निशान, मुंहासे, जले के निशान और त्वचा की अन्य समस्याएं। यह पाठ्यक्रम आपको मेकअप की कला के माध्यम से अपने चेहरे की कमियों को छिपाना सिखाता है।


यह पाठ्यक्रम पूरा करके आप किसी अच्छे मेकअप स्टूडियो में मेकअप आर्टिस्ट के रूप में काम कर सकते हैं या फिर अपना पार्लर खोलकर अच्छी कमाई कर सकते हैं।

बेसिक ब्यूटी केयर : अगर आप किसी ब्रांडिड सैलोन में सौंदर्य विशेषज्ञ के रूप में काम करना चाहते हैं या अपना सलोन खोलना चाहते हैं तो यह पाठ्यक्रम आपके लिए उपयुक्त है। इस क्षेत्र में सफल होने के लिए आपको बुनियादी बातें सीखनी होंगी। बुनियादी बातों से शुरू हुआ यह पाठ्यक्रम आपके सफल करियर की मजबूत नींव रख सकता है।

बेसिक हेयर कटिंग : बालों को सजाना-संवारना एक फलता-फूलता व्यवसाय है। एक हेयरड्रेसर बनकर आप अपने करियर में काफी आगे जा सकते हैं। यह पाठ्यक्रम करने वाले छात्रों को नियमित प्रशिक्षण दिया जाता है जिससे वे बाल काटने से जुड़ी सभी बुनियादी और उच्च ज्ञान प्राप्त कर पाते हैं।

क्रिएटिव कलरिंग : हेयर कलरिंग काफी फैशन में हैं। यह पाठ्यक्रम आपको सर्वश्रेष्ठ ब्रांड्स और नवीनतक ट्रेंड्स के साथ हेयर कलरिंग की नवीनतम तकनीकों में प्रशिक्षत करता है।

नेल आर्ट : नेल आर्टिस्ट इन दिनों अपना नेल स्टूडियो खोलकर अच्छी कमाई कर रहे हैं। अगर आपमें कला के प्रति रुझान है तो यह पाठ्यक्रम आपके लिए बिल्कुल उपयुक्त है। इसे करने के बाद आप अपना विशिष्ट नेल आर्ट स्टूडियो खोल सकते हैं या फिर विभिन्न सौंदर्य क्लिनिक्स में नेल आर्ट आर्टिस्ट के तौर पर काम कर सकते हैं।

हेयर स्टाइलिंग : यह पाठ्यक्रम आपको खास कौशल सिखाता है जो समय और अनुभव के साथ बढ़ता जाता है। इससे छात्रों को जरूरी कुशलता ही नहीं मिलती, बल्कि उन्हें बालों की प्रकृति और टेक्सचर्स के बारे में वैज्ञानिक ज्ञान भी मिलता है। इस पाठ्यक्रम में छात्रों को बालों के विभिन्न टेक्सचर्स, लंबाई, पेशे और अवसरों के अनुसार बुनियादी हेयरस्टाइल्स सिखाए जाते हैं। (आईएएनएस)|

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top