Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

BSP के रिजेक्टेड माल को वफादारी का पट्टा पहनाते हैं अमित शाह: मायावती

 Girish Tiwari |  2016-08-28 07:16:25.0



Cq7exCAWYAAn3ws

तहलका न्‍यूज ब्‍यूरो
आजमगढ़:
बसपा प्रमुख मायावती रविवार को आजमगढ़ के आईटीआई मैदान में महारैली की। मायावती के साथ पार्टी महासचिव सतीश मिश्रा भी मौजूद रहे। रैली में भीड़ देखकर मायावती ने कहा सपा प्रमुख मुलायम के लिए ये बड़ा मैदान है, लेकिन बसपा के लिए छोटा मैदान है। भीड़ देखकर पूर्ण बहुमत भरोसा हुआ। न्‍याय, अमन, चैन के‍ दिन वापस आयेंगे। यहां आए सभी लोगों का शुक्रिया।


अपने संबोधन में बसपा प्रमुख मायावती ने सपा, बीजेपी और कांग्रेस पर जमकर हमला बोला। मायावती ने कहा कि BSP के रिजेक्टेड माल को वफादारी का पट्टा पहनाते हैं बीजेपी अध्‍यक्ष अमित शाह। मायावती ने महारैली के दौरान पूछा कि दो साल में केंद्र सरकार ने आखिर किया क्या है? दो साल में पूर्वांचल के लोगों का भला हुआ क्या? क्या आज गरीबों को सस्ता अनाज मिल रहा है? उन्होंने कहा कि बिजली पानी और स्वास्थ्य सेवाओं के वादे झूठे निकले। उन्होंने कहा कि यूपी में बीजेपी और सपा की मिलीभगत है। यदि कांग्रेस सत्ता से बाहर है तो इसलिए क्योंकि उसकी नीतियां ग़लत रहीं।

मोदी सरकार ने अपने वादे पूरे नहीं किए
मोदी सरकार ने अपने वादे पूरे नहीं किए हैं।मायावती ने पूछा कि क्या किसानों की आय दोगुनी हुई है? क्या यहां के कारखाने शुरू हुए हो गए हैं। गोरखपुर में बंद पड़े कारखाने मोदी सरकार अब याद आए, जब चुनाव में सिर्फ कुछ महीने बाकी है। मायावती ने कहा कि मोदी सरकार ने अपने वादे पूरे नहीं किए हैं। इन्होंने अपने वायदों के मुताबिक दस प्रतिशत भी काम नहीं किए हैं।


किसान आत्महत्या करने को मजबूर
बसपा सुप्रीमो ने पीएम नरेंद्र मोदी पर धन्नासेठों के लिए काम करने के लिए आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि केंद्र में बैठी मोदी सरकार आसानी से पूंजीपतियों के कर्ज माफ कर देती है। दूसरी ओर छोटे किसानों को इतना परेशान किया जाता है कि वे आत्महत्या करने को मजबूर हो जाते हैं। इसके लिए मायावती ने कांग्रेस के साथ बीजेपी को भी जिम्मेदार ठहराया।


मोदी सरकार का फायदा सिर्फ पूंजीपति ही उठा रहे
मायावती ने कहा कि जनधन योजना और स्मार्ट सिटी जैसी योजनाओं का फायदा सिर्फ पूंजीपति ही उठा रहे हैं। गरीबों को कुछ नहीं मिला है। बुलेट ट्रेन के बजट में आम लोगों के लिए कई सारी ट्रेनें चलाई जा सकती थीं। बसपा सुप्रीमो ने केंद्र सरकार पर आरएसएस के एजेंडे पर चलने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने अपने महत्वपूर्ण मंत्रालयों के काम को पाइवेट कंपनियों को दे दिया है। इससे दलितों और पिछड़ों को आरक्षण का लाभ नहीं मिल पाएगा।


दलितों का उत्पीड़न लगातार बढ़ता जा रहा
रोहित वेमुला और ऊना दलित कांड का जिक्र करते हुए मायावती ने कहा कि दलितों का उत्पीड़न लगातार बढ़ता जा रहा है। कमजोर वर्गों के लोग नरेंद्र मोदी से सहानुभूति और वादे नहीं चाहते हैं। बल्कि सम्मान और बराबरी चाहते हैं, जोकि 70 बरसों से भी नहीं मिली हैं।


maya


मायावती ने कहा:

-  महा रैली में आए सभी लोगोंं को धन्‍यवाद, पंडाल के बाहर सड़कों पर भी भीड़, भीड़ देखकर पूर्ण बहुमत भरोसा हुआ
- मायावती ने कांंग्रेस सीएम कैंडिडेट पर हमला करते हुए कहा कि शीला दीक्षित ने यूपी के लोगों को खराब कहा था
- शीला ने दिल्‍ली को खराब किया
-यूपी में बीजेपी-सपा की मिलीभगत, कांग्रेस ग़लत नीतियों के कारण सत्ता से बाहर
- सर्वजन हिताय, सर्वजन सुखाय का सपना पूरा होगा
- अच्छे दिन के वादे बुरे दिन में बदले, महंगाई बढ़ी
- पीएम मोदी जनता से किए हुए सपने पूरे नहीं किए
- बिजली, पेट्रोल, गैस सस्‍ता नहीं हुआ
- आरक्षण के नाम पर भटका रहा है केंद्र
- बीजेपी ने सांप्रदायिकता बढ़ाने का काम किया है


maya 1

बसपा ने शुरू की मेट्रो
बसपा सुप्रीमो ने कहा कि यूपी में चोरी डकैती, अपहरण, गुंडा टैक्स और जमीनों पर अवैध कब्जे की घटनाएं चरम सीमा पर पहुंच गई हैं। मुजफ्फरनगर और मथुरा कांड को नहीं भुलाया जा सकता है। सपा सरकार में हुए कामों की भी शुरुआत बसपा सरकार ने ही शुरू की। उन्होंने कहा कि लखनऊ में मेट्रो परियोजना और आगरा एक्सप्रेसवे की नींव बसपा सरकार के शासनकाल में ही पड़ गया था।


केंद्र से नहीं संभल रहा दिल्‍ली
ऐसी चर्चा है कि केंद्र सरकार कश्मीर को लेकर युद्ध में भी जा सकती है। मायावती ने कहा कि केंद्र से दिल्ली की कानून व्यवस्था तो संभल नहीं रही, यूपी को क्या संभालेगा। उन्होंने कहा कि राज्य की सरकार ऑक्सीजन पर चल रही है और अगर बसपा को नहीं चुना गया, तो उत्तर प्रदेश अपराध प्रदेश ही बना रहेगा।


बिकाऊ लोग अकेले ही निकलेे
हाल ही में पार्टी छोड़कर गए कई नेताओं पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि बहुजन समाज पार्टी राजनीतिक पार्टी के साथ ही मिशन के तौर पर काम करती है और लोगों को यही शिक्षा दी जाती है। यही कारण है कि बसपा छोड़ने वाले बिकाऊ लोग अकेले ही निकलते हैं।


मीडिया पर दलित विरोधी
मायावती ने मीडिया पर दलित विरोधी होने का आरोप भी लगाया और कहा कि बीएसपी के प्रति मीडिया दोहरी नीति अपनाती है। टिकट बेचे जाने के आरोपों पर मायावती ने कहा कि ये झूठ है और बसपा के खिलाफ साजिश है। उन्होंने कहा कि बसपा विरोधियों को पीछे छोड़कर काफी आगे बढ़ चुकी है।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top