Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

BJP का 'पशु प्रेम' अखबारों तक सीमित, बुंदेलखंड में रोज मर रहीं 10 हजार गायें

 Abhishek Tripathi |  2016-06-02 11:29:07.0

bundelkhandतहलका न्यूज ब्यूरो
बुंदेलखंड. पशुओं के प्रति बीजेपी प्रेम किसी से छिपा नहीं है। ऐसे में एक नया मामला सामने आया है। स्वराज अभियान एनजीओ के सामाजिक कार्यकर्ता योगेंद्र यादव ने आरोप लगाया है कि केवल मई महीने में बुंदेलखंड में करीब 3 लाख पशुओं की मौत हो गई और बीजेपी के नेता चुप हैं। सीएम अखिलेश यादव भी कुछ बोलने को तैयार नहीं है। पशुओं की मौत जल संकट और सूखे की वजह से हो रही है। आंकड़ा कहता है कि बुंदेलखंड क्षेत्र में हर दिन 10 हजार गायें मर रही हैं।


योगेंद्र यादव का कहना है कि बीजेपी का पशु प्रेम केवल अखबारों और टीवी चैनलों तक सीमित है। वास्तव में इन पशुओं को बचाने के लिए सरकार कुछ नहीं कर रही है। एनजीओ के आंकड़ों के अनुसार, मध्य प्रदेश व उत्तर प्रदेश के बुंदेलखंड क्षेत्र में 11,065 गांव आते हैं, सभी गांवों में मई माह के दौरान औसतन 10 से 100 तक पशुओं की मौत हुई।


SOCIAL MEDIA से किसानों को जोड़ेगी अखिलेश सरकार, ये है WHATSAPP नंबर


सुप्रीम कोर्ट ने भी सरकार को लगाई फटकार
13 मई को सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र व राज्य सरकारों को सूखे की जिम्मेवारी से बचने के लिए फटकारा। जस्टिस एमबी लोकुर और एनवी रामना के बेंच ने कहा, फंड की कमी का बहाना बना आप छिप नहीं सकते। इसने राज्य सरकारों को आपदाओं के प्रति ऑस्ट्रिच जैसा व्यवहार अपनाने के लिए भी फटकारा।

bundelkhand1


अच्छे मानसून पर टिकी है निगाहें
अप्रैल में संसद को सरकार ने बताया कि 11 राज्यों के 266 जिलों को सूखाग्रस्त घोषित किया गया है। 10 राज्यों के 330 मिलियन लोग प्रभावित हैं। स्थिति में सुधार की उम्मीद की जा रही है हालांकि भारत के मौसम विभाग ने इस वर्ष अच्छे मानसून की भविष्यवाणी की है।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top