Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

2017 में नरेन्द्र मोदी को सद बुद्धि आए: मायावती

 Girish |  2017-01-03 06:37:21.0

mayawati


तहलका न्‍यूज ब्‍यूरो
लखनऊ:
बसपा सुप्रीमो मायावती ने मंगलवार को राजधानी लखनऊ में मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि बीजेपी सरकार गरीब विरोधी है। बीजेेपी को अपने बहुुमत पर अंहकार हो गया है। बिना तैयारी के नोटबंदी का फैसला इसी का परिणाम है। नोटबंदी ईमानदार लोगों के लिए अभिशाप बन गई है। नोटबंदी से 90 फीसदी जनता परेशान है। नोटबंदी के बाद लाइन में लगने से कई लोगों की जान गई है। उन्‍होंने कहा कि इस वर्ष 2017 में भाजपा और नरेन्द्र मोदी को सद बुद्धि आए।


केंद्र सरकार के खिलाफ पूरा विपक्ष एकजुट है, नोटबंदी को लेकर गलत कार्यप्रणाली का विरोध करते हैं। उन्‍होंने कहा कि नोटबंदी काला अध्याय के रूप में दर्ज होगा। देश की जनता को लगने लगा है नोटबंदी का फैसला निजी फायदे के लिए लिया गया है।


मायावती ने कहा कि कल हुई भाजपा की रैली में भाड़े के लोग मंगाए गए थे। PM मोदी नये मुद्दों के ओर जनता का ध्यान भटका रहे हैंं। PM का रैली में दिया गया भाषण महज खानापूर्ति है। गरीब मजदूर आशा कर रहे थे कि दो कमरो के मकान मिलने का ऐलान मोदी करेंगे। उत्तर प्रदेश की जनता को और गुमराह नही किया जा सकता है। उन्‍होंने कहा कि कांग्रेस भी वर्षों तक जनता को गुमराह करती रही, कांग्रेस की तर्ज पर बीजेपी भी गुमराह कर रही।


मायावती ने कहा कि अच्‍छे दिन की आशांका बहुत कम दिखाई दे रहा है। आम जनता अपने पैसे के लिए लाचार है। मोदी सरकार कालेधन, भ्रष्टाचार पर अंकुश लगाने के नाम पर अत्याचार कर रही है। कालेधन को BJP के लोग उजागर नही कर सके। 31 दिसंबर 2016 का PM का संबोधन निराशाभरा, किसानो के कर्जमाफी को कुछ नही किया। गरीबों को 15 लाख देने का जुमला झूठा साबित हुआ। PM का राष्ट्र के नाम संबोधन में घोषणाएं खानापूर्ति, डेढ़ साल पहले पीएम ने घोषणाएं क्यों नहीं की।


उन्‍होंंने कहा कि बीजेपी अपनी विफलताओं को छिपा रही है। कालेधन के उजागर होने से 90% मजदूर व्यापारी को इससे राहत जरुर मिलती। 50 दिन पूरे होने के बाद मोदी को बताना चाहिए था कितना कालाधन पकड़ा गया। पीएम को अपने भाषण मे नोटबंदी के बाद कितना भ्रष्टाचार कम हुआ बताना चाहिए था। इनके जो भी वादें व नीतियों है उनमें काला नही बहुत अधिक काला नजर आ रहा है।


मायावती ने कहा कि केंद्र की बीजेपी सरकार के कार्यकाल का आधा समय बीत चूका हैं। जो घोषणाएं की गई है वे केवल खानापूर्ती हैं। पीएम मोदी ने जो कुछ बोला वह वादा खिलाफी के चलते बोला है। पीएम को कालेधन, भ्रष्टाचार पर जवाब देना चाहिए, अबतक कितना कालाधन पकड़ा गया, जवाब दे सरकार।


मायावती ने कहा कि बसपा चुनाव को अकेले जीतने व पूर्ण बहुमत के लिए अकेले लड़ेगी। उत्तर प्रदेश की जनता से पूर्णबहुमत के लिए अपील करती हूं। बसपा कार्यकर्ताओं के खून पसीने के पैसा का बचाव करती है। लेकिन पीएम मोदी जनता का खून चूस कर बड़े-बडे पूंजीपतियों को लाभ पहुंचाते हैं। इतनी घिनौनि राजनीति जनता स्वीकार नही करेंगी।


मायावती ने समाजवादी पार्टी में चल रहे झगड़े के बारे में बोलते हुए कहा कि पार्टी में घमासान से सपा वोट दो गुटों में बंंट गया हैं। सपा परिवारवादी पार्टी हैं। अखिलेश व मुलायम एक-दूसरे को हरानें मे लगे है। इससे यादव वोट बंट गया है। मुस्लिम समाज सपा को वोट देकर अपना वोट खराब न करें। उन्‍होंने कहा कि कल पीएम मोदी ने भी सपा में चल रहे घमासान के बारे में कुछ नहीं बोला इससे साबित होता है कि जो भी हो रहा है वो बीजेपी और सपा के मिलीभगत से हो रहा है।


उन्‍होंने कहा कि यूपी में सपा का वोट 5-6 फीसदी है, जबकि दलित वोट इससे अधिक है। प्रदेश में 60-70% सीटों पर यादवों का वर्चस्व हैं। दलित अपनी अपेक्षा से काफी परेशान है। भाजपा को रोकने के लिए बसपा को समर्थन देना होगा। केंद्र सरकार के ज़्यादातर काम प्राइवेट हाथों में दिए जाने से आरक्षण में कमी हुई।


मायावती ने कहा कि बाबा साहब के नाम का इस्तेमाल करने से बीजेपी के साथ दलित नहीं आएंगे। सपा की लड़ाई से भाजपा को फायदा होगा। दलितों और मुस्लिमों के सहयोग से बसपा सरकार बनाएगी। परिवारवाद से छुटकारा पाने के लिए बसपा को समर्थन दें।


उन्‍होंने कहा कि विरोधी BSP पर जातिवादी पार्टी का आरोप लगा रहे हैं। इस पर बीजेपी राजनीतिक षडयंत्र के तहत काम कर रही है। लेकिन बीएसपी ने सभी वर्गों के हित का ध्यान रखा है। पार्टी संगठन में सभी वर्गों के लोगों को सम्मान दिया। अपरकास्ट के गरीबों के लिए आरक्षण की आवाज उठाई।


मायावती ने कहा कि यूपी में 403 विधानसभा सीट है। बीएसपी ने बाह्मण समाज के लोगो को 66 टिकट दिये, क्षत्रिय समाज के लोगो को 36 टिकट दिये, वैश्य,पंजाबी समाज के लोगों को 11 टिकट दिये। 85 सीटो पर अल्पसंख्यक वर्ग के लिए टिकट दिया, 87 टिकट दलित वर्ग के लोगों को दिये गये। ओबीसी के 106 टिकट फाइनल किए। 97 टिकट मुस्लिम वर्ग के लोगों को दिया। अपर कास्ट समाज के लोगों को 113 टिकट दिए।

Tags:    

Girish ( 4001 )

Tahlka News Contributors help bring you the latest news around you.


  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top