Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

भाजपा अध्यक्ष का दावा विधानसभा घेराव में 250 कार्यकर्ता घायल

 Vikas Tiwari |  2016-08-24 13:41:30.0

भाजपालखनऊ : भारतीय जनता पार्टी ने प्रदेश सरकार के खिलाफ कुशासन, अराजकता, गुण्डाराज, भ्रष्टाचार, जमीनों पर अवैध कब्जे, बाढ़ पीड़ितों की समस्या, शिक्षा, स्वास्थ्य आदि सेवाओं की बदहाली के मुद्दे पर विधानसभा का घेराव किया। प्रदर्शन के दौरान आगे बढ़ाते भाजपा के सांसदों, विधायकों, प्रदेश पदाधिकारियों, महिला कार्यकर्ताओं के ऊपर पुलिस प्रशासन ने लाठी चार्ज, आंशू गैस, मिर्ची बम तथा वाटर कैनन के प्रयोग से सैकड़ों प्रमुख कार्यकर्ता बुरी तरह घायल हो गये है। पार्टी प्रदेश अध्यक्ष ने पुलिस प्रशासन द्वारा किये गये इस बर्बर लाठी चार्ज की घोर निन्दा की है।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि अब बर्बर सरकार के अन्त का समय आ गया है। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के हजारो की संख्या में प्रदेश सरकार के कुशासन के खिलाफ संघर्ष के लिए अवाज देने के लिए सड़कों पर उतरे। भाजपा अध्यक्ष ने प्रदेश के कार्यकर्ताओं के धैर्य की सराहना की और कहा कि पुलिस प्रशासन की बर्बरता के बावजूद कार्यकर्ताओं ने अपना धैर्य नहीं खोया यह प्रशंसनीय है। केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि भाजपा कार्यकर्ताओं का उत्साह और प्रदेश से कुशासन को उखाड़ फेंकने का संकल्प से अब वर्तमान प्रदेश सरकार अपनी नैतिक ताकत खो चुकी है और जनता के दिलों से बर्खास्त हो चुकी है।

सड़कों पर उतरी भाजपा पर बर्बर लाठी चार्ज में 250 सौ के लगभग कार्यकर्ता घायल हो गये जिनमें लगभग 100 कार्यकर्ताओं को गंभीर चोट आई। भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष सूर्य प्रताप शाही पुलिस द्वारा किये गये लाठीचार्ज में घायल हो गये। घायल कार्यकर्ताओं में प्रमुख रूप से अंजू बाला सांसद मिश्रिख, रेखा वर्मा सांसद धौरहरा, सह मीडिया प्रभारी अनीता अग्रवाल, मीना चैबे, अलका मिश्रा, प्रदेश मंत्री महेश श्रीवास्तव, सांसद विनोद सोनकर, पार्षद रजनीश गुप्ता, प्रदेश प्रवक्ता हरिश्चन्द्र श्रीवास्तव, डा0 चन्द्रमोहन, आई0पी0 सिंह, प्रदेश मीडिया प्रभारी मनीष शुक्ला, रामनरेश रावत, प्रदेश मंत्री देवेन्द्र सिंह, संतोष सिंह, पूर्व प्रदेश मंत्री वीरेन्द्र तिवारी, कानपुर मीडिया प्रभारी प्रमोद बार्डर, युवा मोर्चा के प्रदेश महामंत्री अभिजात मिश्रा, साकेत शर्मा, दिनेश दूबे, संजय सिंह, गाजियाबाद अशोक मोगा, नीरज चतुर्वेदी, सुरेश मैथानी, कानपुर के बीडी राय, फैजाबाद जिलाध्यक्ष अवधेश पाण्डेय बादल, परमानन्द मिश्रा, कमलेश श्रीवास्तव, हरपाल वर्मा, विनीत शारदा, डा0 रजनीश सिंह, राहुल तिवारी, चै0 शेर सिंह, संचित सिंह, घायलों में कई पत्रकारों को भी पुलिस बर्बरता में चोटे आई जिनमें न्यूज नेशन के ज्ञानेन्द्र मिश्र, एएनआई के श्याम, दैनिक आज के आजम, के0के0 सिंह, संजय सिंह, रंजना सिंह, दिवाकर मिश्र, साकेत सिंह ‘सोनू’, सचिन राजपूत, सुषमा खरगवाल, किरन बाला, आनन्द द्विवेदी, राम उजागिर अग्रहरि, कृष्ण चन्द्रर सिंह आदि को गंभीर चोटे आई।
कुशासन की पर्याय बन चुकी प्रदेश सरकार को उखाड़ फेकने के प्रदेश के सभी पदाधिकारी, सांसद, विधायक, जिलाध्यक्ष, जिलाप्रभारी, प्रदेश कार्यसमिति सदस्य तथा जिलो के प्रमुख कार्यकर्ताओं ने भाग लिया। धरने का नेतृत्व कर रहे प्रदेश अध्यक्ष के साथ प्रमुख लोगों में प्रदेश महामंत्री स्वतंत्र देव सिंह, पंकज सिंह, विद्यासागर सोनकर, अनुपमा जायसवाल, प्रदेश उपाध्यक्ष सांसद शिव प्रताप शुक्ला, रामनरेश रावत, जे0पी0एस0 राठौर, राकेश त्रिवेदी, राजेन्द्र अग्रवाल, विनोद सोनकर, हरीश द्विवेदी, जगदम्बिका पाल, हरनारायन राजभर, अंजूबाला, प्रियंका सिंह रावत, हरिओम पाण्डेय, रेखा वर्मा, के0पी0 सिंह, डा0 भोला सिंह, कमलावती सिंह, तेजेश्वरी सिंह, बाबूलाल चैधरी, विनोद अग्रवाल, अशोक पाण्डेय, रूपेश पाण्डेय, नन्हें शाही, प्रदेश मंत्री अनूप गुप्ता, अमर पाल मौर्य, गोविन्द शुक्ला, प्रदेश उपाध्यक्ष अश्वनी त्यागी, पूर्व महामंत्री रमापति शास्त्री, सुनीता बंसल, मीनाक्षी सिंह, कल्पना तिवारी, हीरो बाजपेयी, सियाराम वर्मा, शिव नायक वर्मा, विभूति नारायण सिंह आदि प्रमुख लोग शामिल हुए।
प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य ने सिविल अस्पताल जाकर सभी घायल कार्यकर्ताओं से मिलकर उनके स्वस्थ्य की स्थिति के बारे में जानकारी प्राप्त की और चिकित्सकों से मिलकर घायलों की उपचार की चिंता की।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top