Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

पुस्तक मेला संयोजक उमेश ढल का निधन

 Sabahat Vijeta |  2016-07-28 14:32:44.0

umesh dhal


तहलका न्यूज़ ब्यूरो 


लखनऊ. प्रदेश भर में पुस्तक मेला लगाकर लोगों को पुस्तक पढ़ने के लिए जागरूक करने वाले उमेश ढल का आज सुबह लगभग छह बजे दिल्ली के फोर्टिस अस्पताल में निधन हो गया। वे 55 वर्ष के थे। उनकी पत्नी का पिछले ही वर्ष निधन हुआ था। इकलौती बेटी आस्था का इसी वर्ष उन्होंने विवाह कर दिया था। उनका शव सड़क मार्ग से आज लखनऊ आशियाना पावर हाउस स्थित उनके आवास लाया जा रहा है। उनका अंतिम संस्कार कल दिन में भैंसाकुण्ड बैकुण्ठ धाम घाट पर होगा। शवयात्रा उनके निवास स्थान से सुबह नौ बजे घाट के लिए प्रस्थान करेगी।


ज्ञातव्य है कि देवराज अरोड़ा व मनोज सिंह चंदेल के साथ मिलकर नालेज ट्री फाउण्डेशन के तहत उमेश ढल ने राजधानी लखनऊ में 2003 में पहला राष्ट्रीय पुस्तक मेला शुरू किया था और धीरे-धीरे गोरखपुर, वाराणसी, इलाहाबाद और कानपुर में भी ये तिकड़ी मिलकर और अलग-अलग मेले आयोजित करती आ रही थी। उनके निधन पर पुस्तक व्यवसायी राजकुमार छाबड़ा, नीरज अरोड़ा, प्रदेश ओलम्पिक संघ के उपाध्यक्ष टी.पी.हवेलिया, समाजसेवी मुरलीधर आहूजा, गोमती एजेन्सीज के मुमताज आलम, मनोज सिंह चंदेल, लेखक महेन्द्र भीष्म, डा.सुधाकर अदीब, कवि सर्वेश अस्थाना, मुकुल महान, पंकज प्रसून, अभय सिंह निर्भीक, भावना मौर्या, अमिताभ कुमार, सुशील दुबे, डा.अमिता दुबे, अनीता श्रीवास्तव, ज्योति किरन रतन, राजवीर रतन, नवीन शुक्ल आदि ने शोक व्यक्त किया है। बेटी के आग्रह पर वे जन्मदिन मनाने और चौहदवें पुस्तक मेले की बुकिंग के लिए दिल्ली गए थे। जहां उन्हें निमोनिया की शिकायत होने पर दो दिन पहले फोर्टिस अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां आज सुबह उनका निधन हो गया।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top