Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

UP में CM के रूप में पहली पसंद हैं मायावती: सर्वे

 Abhishek Tripathi |  2016-09-09 04:38:28.0

mayawatiतहलका न्यूज ब्यूरो
लखनऊ. यूपी विधानसभा चुनाव 2017 के नतीजे चौंकाने वाले हो सकते हैं। इन नतीजों में बसपा सबसे आगे रह सकती है। इसी क्रम में दूसरे नंबर पर बीजेपी और तीसरे नंबर पर समाजवादी पार्टी (सपा) के रहने का अनुमान है। एक सर्वे में ऐसा दावा किया गया है। सर्वे के मुताबकि, यूपी के 25 फीसदी लोगों का सोचना है कि पीएम नरेंद्र मोदी को 20 से ज्यादा अंक नहीं मिलने चाहिए। वहीं, यूपी में दिनोंदिन बिगड़ रही कानून-व्यवस्था के कारण सपा तीसरे पायदान पर खिसक रही है जबकि इसका सीधा फायदा बीएसपी यानी मायावती को मिल रहा है। मायावती अपने सशक्त शासन के लिए जानी जाती रही हैं।


सर्वे की रिपोर्ट
कुल 403 सीटों वाले यूपी विधानसभा में बसपा को वर्तमान से 89 सीटें अधिक मिलने का अनुमान है। सत्तारूढ़ सपा 170 सीटें हारकर 74 सीटों पर सिमट सकती है। वर्तमान में सपा के पास कुल 224 सीटें हैं।


बीजेपी को मिलेगी बढ़त
बीजेपी की सीटें वर्तमान में 47 से बढ़कर 135 हो सकती हैं। बीजेपी को अगर नुकसान होगा तो केवल इस बात से कि उसने मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार पेश नहीं किया है। सबसे बड़ी बात तो यह है कि मुख्यमंत्री पद के लिए वरुण गांधी 23 फीसदी मतों के साथ तीसरे सबसे पसंदीदा नेता बनकर उभरे हैं। वहीं, मायावती को 28 फीसदी जबकि सीएम अखिलेश यादव को मुख्यमंत्री के रूप में 25 फीसदी लोगों ने पसंद किया है। बीजेपी अकेली ऐसी पार्टी है, जिसने मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार घोषित नहीं किया है। समस्या यह है कि दावेदारों में वरुण गांधी से लेकर योगी आदित्यनाथ, पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह तथा भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य भी हैं।


सर्वे में कांग्रेस को नुकसान
सर्वे में कांग्रेस को सर्वाधिक नुकसान होता दिख रहा है। यह वर्तमान 28 सीटों से मात्र 15 सीटों पर सिमट सकती है, जबकि अन्य को 10-28 सीटें मिल सकती हैं। प्रतिभागियों ने कहा है कि यूपी में कानून-व्यवस्था की स्थिति को देखकर मतदाता अपना मत सपा को देने को लेकर दो बार सोचेंगे।


सबसे प्रभावी मायावती
मुख्यमंत्री के रूप में मायावती द्वारा किए गए कार्यो से लोग प्रभावित नजर आए। कुल 32 फीसदी मतों के साथ उन्हें सबसे पसंदीदा मुख्यमंत्री चुना गया। वहीं, कल्याण सिंह को 18 फीसदी और अखिलेश यादव को 15 फीसदी लोगों ने मुख्यमंत्री के रूप में पसंद किया।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top