Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

मीडिया ने नाकाम की वेस्ट यूपी में दंगा कराने की साजिश: मायावती

 Abhishek Tripathi |  2016-06-19 11:14:32.0

mayawatiतहलका न्यूज ब्यूरो
लखनऊ. बसपा सुप्रीमो मायावती ने रविवार को यूपी के समस्त छोटे-बड़े वरिष्ठ पदाधिकारियों, पार्टी विधायकों और आगामी विधानसभा चुनाव के लिये तय उम्मीद्वारों समेत अन्य लोगों के साथ बैठक की। बैठक में मायावती ने कहा कि चुनाव से पहले एक बात तो साफ हो गई है कि बीजेपी और सपा मिलकर बसपा के खिलाफ काम कर रही हैं। इसके साथ ही सांप्रदायिक दंगों को कराने का षड़यंत्र रच रही हैं। वहीं, मायावती ने कैराना मामले में मीडिया की सराहना करते हुए कहा कि बीजेपी वेस्ट यूपपी में दंगा कराना चाहती थी, लेकिन मीडिया ने उनकी साजिश को नाकाम कर दिया।


मायावती ने कहा कि जिस तरीके से कैराना क्षेत्र से लोगों के पलायन को बीजेपी ने हिंदू-मुस्लिम सांप्रदायिकता का रंग देने का प्रयास कर रही है। वहीं, सपा कैराना और कांधला के सच को दबाने में जुटी है। ऐसे में दोनों पार्टियों की मिलीभगत साफ दिख रही है। इस मामले में मायावती ने मीडिया की सराहना करते हुए कहा कि 'पलायन' के सच को जनता के सामने मीडिया ने जिस तरीके से रखा, उससे दोनों पार्टियों की हकीकीत सामने आ गई।


चार सालों से ठग रही है सपा
बैठक में मायावती ने पीएम नरेंद्र मोदी पर भी जमकर निशाना साधा। मायावती ने कहा कि पीएम मोदी ने देश की जनता को सिर्फ निराश किया है। झूठे वादों से जनता का दिल तो जीत लिया, लेकिन उन्हें पूरा नहीं किया। इसका खामियाजा उन्हें यूपी चुनाव में भुगतना पड़ेगा। वहीं, सपा भी यूपी की 22 करोड़ जनता को पिछले 4 सालों से ठग रही है। यूपी चुनाव में जनता सपा को जवाब जरूर देगी। यूपी की जनता का विश्वास सपा और बीजेपी दोनों ने तोड़ा है।


mayawati1


बसपा ने किया बीजेपी को हराने का काम
मायावती ने कहा कि सांप्रदायिक ताक़तों को कम़जोर करने की नीति के तहत ही उत्तराखंड, मध्य प्रदेश और यूपी में बीजेपी को हराने का काम सिर्फ बसपा ने ही किया है। बसपा आने वाले विधानसभा चुनावों में यूपी में ही नहीं बल्कि उत्तराखण्ड और पंजाब राज्य में भी अकेले अपने बलबूते पर ही चुनाव लड़कर सरकार बनाने का प्रयास करेगी।बसपा ने इसी के हिसाब से अपनी तैयारी की है और आगे भी ऐसी ही तैयारी जारी रहेगी।


सरकारों को करो बेनकाब
मायावती ने बैठक में यह भी निर्देंशित किया कि पार्टी के सभी छोटे-बड़े ज़िम्मेदार लोगों को अब और भी ज़्यादा लगन व तन्यमता से काम करते हुए अपना ज़्यादा से ज़्यादा समय क्षेत्रों में ही देना है। क्षेत्र में हर स्तर की तैयारी को और ज्यादा मज़बूत करना है और पार्टी संगठन के कुछ अधूरे बचे कार्यों को यथासमय पर पूरा कर लेना है। इसके साथ ही केंद्र की बीजेपी और सूबे की सपा सरकार की जन-विरोधी नीतियों व उसके मुठ्ठीभर बड़े-बड़े पूंजीपतियों व धन्नासेठों की समर्थक होने का पर्दाफाश करके लोगों में इन दोनों ही सरकारों को बेनक़ाब करते रहना है।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top