Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

चुनाव के चलते जल्‍द बजट के विरोध में चुनाव आयोग पहुंचा विपक्ष

 Girish |  2017-01-05 06:05:48.0



तहलका न्‍यूज ब्‍यूरो
नई दिल्ली:
पांच राज्यों में होने वाले चुनावों की तारीखों की घोषणा के ठीक एक दिन बाद गुरुवार को विपक्षी पार्टियां एकजुट होकर चुनाव आयोग का दरवाज़ा खटखटा रही हैं। बता दें कि बजट पेश करने की तारीख यानि एक फरवरी जो कि चुनाव से ठीक पहले की है।

विपक्षी पार्टियां चाहती हैं कि यह तारीख आगे सरका दी जाए। कांग्रेस, तृणमूल, समाजवादी पार्टी, बसपा, जनता दल युनाइटेड और लालू यादव की पार्टी आरजेडी मिलकर आज (गुरुवार) चुनाव आयोग से मिलेगी। विपक्ष का आरोप है‍ कि सत्‍ता पक्ष इसके माध्‍यम से आने वाले पांच राज्‍यों के विधानसभा चुनाव में फायदा ले सकता है। कांग्रेस चुनाव आयोग से मांग करेगी कि आचार संहिता के दौरान बजट पेश न हो बल्कि वोट आन अकाउंट पेश किया जाए। 2012 में यूपी चुनाव की घोषणा के समय नतीजे के बाद बजट पेश हुआ था।


चुनाव तारीख से तीन दिन पहले बजट पेश करने की तारीख पर विपक्ष चुनाव आयोग को ज्ञापन देगा। राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद ने चुनाव आयोग से समय मांगा है।

वहीं, इस मामले पर जेटली ने कहा है, लोकसभा चुनाव से ठीक पहले अंतरिम बजट पेश किया जाता है। किसी ने उसे नहीं रोका. यहां तक कि 2014 में बजट आम चुनाव से ठीक कुछ दिन पहले पेश किया गया. यह संवैधानिक आवश्यकता है।

बताते चले कि पिछले दिनों केंद्रीय संसदीय कमेटी ने बैठक में आम बजट एक फरवरी को पेश करने का प्रस्‍ताव दिया था। हालांकि इस पर अभी अंतिम मौहर नहीं लगी है, लेकिन चार फरवरी से यूपी समेत पांच राज्‍यों होने वाले चुनावों को देखते हुए विपक्ष ने इसका कड़ा विरोध किया है।

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top