Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

यूपी: इलाहाबाद HC के आदेश पर CBI ने बुलंदशहर गैंगरेप मामले में दर्ज की FIR

 Abhishek Tripathi |  2016-08-19 09:19:59.0

bulandshahr_gang_rape_cbiतहलका न्यूज ब्यूरो
बुलंदशहर. इलाहाबाद हाईकोर्ट के सख्त आदेश के बाद सीबीआई ने बुलंदशहर गैंगरेप मामले में FIR दर्ज कर ली है। इस मामले में सुनवाई करते हुए कोर्ट ने अखिलेश सरकार को फटकार लगाते हुए था कि आखिर क्यों इसकी जांच सीबीआई से न करवाई जाए? वहीं, सीबीआई की एक टीम शुक्रवार को बुलंदशहर पहुंची और घटनास्थल का निरीक्षण भी किया।


बुलन्दशहर प्रकरण एक ऐसा मामला था जिसमे सरकार के कानून व्यवस्था के मुद्दे पर सवालिया निशान लग रहे हैं। लेकिन बावजूद इसके अभी तक आरोपियों को आखिर क्यों रिमाण्ड पर क्यों नहीं लिया गया है। इससे कहीं न कहीं यूपी पुलिस की लापरवाही भी उजागर हुई है। छोटे-छोटे मामलों में आरोपियों को रिमांड पर लेने वाली यूपी पुलिस इतने बड़े प्रकरण में सजग क्यों नहीं दिखी। इससे एक बात तो साफ जाहिर होती है कि इस पूरे प्रकरण में सीबीआई जांच कराने पर कई पुलिसकर्मियों पर गाज गिर सकती है।


हाईकोर्ट ने पूछा: क्यों नहीं हुआ आरोपियों का मेडिकल
हाईकोर्ट ने इस मामले पर कड़ा रुख इख्तियार करते हुए पुलिस से इस मामले के बयान और केस डायरी भी मांगी है। कोर्ट ने बुलंदशहर के एसएसपी से पूछा है कि आरोपियों का मेडिकल परिक्षण क्यों नहीं कराया गया। पुलिस ने आरोपियों को रिमांड पर भी क्यों नहीं लिया। कोर्ट ने कहा कि पुलिस आरोपियों को रिमांड पर लेकर उनसे पूछताछ करे। हाईकोर्ट ने प्रदेश में महिलाओं के साथ होने वाले अपराधों को रोकने में लापरवाही बरतने वाले पुलिस अधिकारीयों के खिलाफ प्रदेश सरकार को कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश भी दिए। चीफ जस्टिस डीबी भोसले और जस्टिस यशवंत वर्मा की खंडपीठ इस मामले की सुनवाई कर रही है।


विरोधी पार्टियों ने सरकार को घेरा
बुलंदशहर गैंगरेप की घटना पर बीएसपी सुप्रीमो मायावती के साथ-साथ बीजेपी ने अखिलेश यादव से इस्तीफे की मांग की थी। बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्या ने अखिलेश सरकार पर हमला बोलते हुए प्रदेश में जंगलराज बताया था। विपक्षी दलों ने सपा सरकार को हर तरफ से घेरने की कोशिश की थी। जबकि पीडित परिवार ने कहा था कि अगर उन्हें तीन महीने के अन्दर इंसाफ और दोषियों को सजा नहीं मिली तो उनका पूरा परिवार आत्महत्या कर लेगा।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top