Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

नए RBI गवर्नर उर्जित पटेल के सामने 9 सबसे बड़ी चुनौती

 Abhishek Tripathi |  2016-08-21 05:57:08.0

Urjit_patelतहलका न्यूज ब्यूरो
नई दिल्ली. अगले महीने की चार तारीख को जब आरबीआई के डिप्टी गवर्नर उर्जित पटेल गवर्नर का काम संभालेंगे तो उनके सामने राजन के अधूरे एजेंडे को पूरा करने की चुनौती होगी। राजन ने अपने तीन वर्ष के कार्यकाल में रिजर्व बैंक के कामकाज में कई बदलावों की शुरुआत की है, लेकिन इनमें से कई अभी अधूरे हैं।


फंड की कमी व फंसे कर्जे (एनपीए) की समस्या से जूझते सरकारी बैंको को नई राह सुझाने से लेकर बैंकों की ग्राहक सेवा संबंधी गुणवत्ता के स्तर को सुधारने जैसे दर्जनों काम हैं, जिन्हें पटेल को करना होगा।


इसी तरह से पटेल की अगुआई में यूनीवर्सल बैंक लाइसेंस देने का काम भी होगा और देश में एक मजबूत ऋण बाजार (डेट मार्केट) स्थापित करने की प्रक्रिया भी तेज की जानी है। कहने की जरूरत नहीं कि नए आरबीआई गवर्नर के सामने चुनौतियां बेशुमार होंगी।


यह है अधूरा एजेंडा


1. फंसे कर्ज की समस्या पर काबू पाने की प्रक्रिया तेज करना


2. फंड की समस्या से जूझ रहे सरकारी बैंकों की दिक्कतें दूर करना


3. बैंकों को पूंजी जुटाने के लिए अन्य संसाधन मुहैया कराना


4. देश में एक मजबूत ऋण बाजार को विकसित करना


5. कस्टोडियन बैंक और यूनीवर्सल बैंक का लाइसेंस देना


6. हर भारतीय को तमाम वित्तीय सेवा घर बैठे उपलब्ध कराना


7. मोबाइल बैंकिंग को आम जनता की पहुंच में लाना


8. बैंकों की ग्राहक सेवा की गुणवत्ता में भारी सुधार करना


9. देश में नए पेमेंट बैंक और स्मॉल बैंक स्थापित करना

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top