Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

GOOD NEWS: चूर हुई हड्डियों को जोड़ेगा IIT-BHU का बोन-फिलर

 Anurag Tiwari |  2016-11-01 09:40:00.0

Indian Bone Filler, Varanasi, IIT-BHU, Banaras Hindu University, IIT, BHU, IMS-BHU, IMS

तहलका न्यूज ब्यूरो

वाराणसी. आईआईटी और आईएमएस बीएचयू के रिसर्चर्स ने एक ऐसा बोन फिलर तैयार किया है जो बुरी तरह चूर-चूर हड्डियों को भी सही कर देगा. अभी तक इस काम में लिए विदेशों से इम्पोर्ट किया गया बोन-फिलर इस्तेमाल होता था जो काफी महंगा पड़ता था.

बीएचयू ओर्थोपेडिक्स के प्रो अमित रस्तोगी के मुताबिक़ अभी तक किसी एक्सीडेंट में चूर हो गई हड्डियों को सही करने के लिए विदेशों से बोन फिलर मनागाना पड़ता था, जिसकी कीमत कीमत ढाई से तीन हजार रुपये प्रति ग्राम तक होती है, जो काफी महंगा पड़ता है. लेकिन आईआईटी और बीएचयू ने मिलकर जो बोन फिलर तैयार किया है, उसकी कीमत विदेशी बोन-फिलर से एक चौथाई सस्ती पड़ेगी.

आईआईटी के केमिकल इंजीनियरिंग डिपार्टमेंट के प्रो.प्रदीप कुमार श्रीवास्तव बताया कि कैल्शियम और बोन मिनरल से तैयार इस इंडियन बोन फिलर के लिए पेटेंट एप्लीकेशन फाइल कर दी गई है. आईआईटी ने इसके 200 सैंपल बनाए गए हैं. अगर सब सही रहता है तो अगले वर्षों में इंडियन बोन फिलर मरीजों के इलाज के लिए मार्केट में उतार दिया जाएगा.


किसी भी हादसे में टूटी हुई हड्डियों को जोड़ने के लिए उसको स्टील या पॉलीमर लगाकर जोड़ दिया जाता है लेकिन अगर चोट गंभीर हो तो टूटी हुई हड्डियों का चूरा हो जाता है और चोट लगी जगह पर गड्ढा हो जाता है. अगर इसका ध्यान न रखते हुए उसे न भरा जाए तो हड्डी के जुड़ने में दिक्कतें आती हैं और चोट की जगह काफी भद्दी नजर आती है. इस समस्या से निजात पाने के लिए बोन फिलर की जरूरत पड़ती है. बोन फिलर को  कैल्शियम और बोन मिनरल की मदद से तैयार किया गया है.

इस बोन फिलर को बनाने के लिए आईआईटी के टिश्यू इंजीनियरिंग लैब में प्रोजेक्ट चल रहा है. इस प्रोजेक्ट में आईआईटी के केमिकल इंजीनियरिंग डिपार्टमेंट के प्रो. प्रदीप कुमार श्रीवास्तव और आईएमएस बीएचयू के ओर्थोपेडिक्स डिपार्टमेंट के प्रो. अमित रस्तोगी के डायरेक्शन में टिश्यू इंजीनियरिंग लैब में इंडियन बोन फिलर को बनाने का का काम चल रहा है. इस प्रोजेक्ट में दोनों संस्थानों के कई एक्सपर्ट्स लगे हैं.

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top