Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

उत्तराखंड में कई जगह बादल फटे, 9 लोगों की मौत, 35 मलबे में दबे

 Abhishek Tripathi |  2016-07-01 07:13:26.0

uttarakhand_floodतहलका न्यूज ब्यूरो
देहरादून. उत्तराखंड में भारी बारिश ने तबाही मचा दी है। चमोली जिले में 8 लोगों के नंदाकिनी नदी में बहने की खबर है जबकि पिथौरागढ़ में 35 से अधिक लोगों के मलबे में दफन होने की सूचना है। नंदाकिनी, अलकनंदा और पिंडर नदियां खतरे के निशान पर हैं। घाट इलाके में 8 लोग नंदाकिनी नदी में बह गए।


कुमाऊं के पिथौरागढ़ जनपद में रात भर हुई भारी बारिश, सडीडीहाट के सिंघाली क्षेत्र के बस्तडी, दयालकोट व गैराड में तबाही, 35 से अधिक लोग मलबे में दफन की खबर आपदा विभाग के कंट्रोल रुम से बताई जा रही है।

uttarakhand_flood1


नंदप्रयाग घाट स्थित बिजली परियोजना में 20 मजदूरों के बाढ़ में फंसने की सूचना है। बदरीनाथ हाईवे कई जगह बंद होने से यात्रा बाधित हुई है। गुरुवार रात मूसलाधार बारिश ने चमोली जिले में कहर बरपा दिया। प्रशासन को घाट में तीन लोगों के बहने की सूचना मिली है।


uttarakhand_flood2


प्रशासन ने तहसीलदार के नेतृत्व में राजस्व टीम घटना स्थल पर भेज दी है। घाट में नंदाकिनी नदी के उफान में कई दुकानें बह गईं। भारी बारिश के बीच लोग घरों से बाहर आ गए थे। लोगों ने अस्पताल और स्कूलों में शरण ली है।


कई पुल और पुलिया बहने की भी सूचना है। बदरीनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग कई स्थानों पर बाधित होने से यात्री बीच में फंसे हैं। सबसे बुरी स्थिति ग्रामीण क्षेत्रों की है, जहां रोड टूटने से संपर्क कट गया। वहीं आपदा प्रबंधन का आपातकालीन 7 डेस्क सिस्टम निष्क्रिय पड़ा है। डीएम विनोद कुमार सुमन का कबना है कि बारिश से भारी नुकसान हुआ है।

uttarakhand_flood3


देहरादून में मसूरी रोड बंद
बारिश के कारण सीएम आवास से मसूरी की ओर जाने वाली रोड मलबा आने से बंद हो गई। सहस्त्रधारा में चामासारी मार्ग अभी तक नहीं खुल पाया है।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top