Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

MLC चुनाव में जमकर हो रही है कॉस वोटिंग!

 Girish Tiwari |  2016-06-10 06:17:05.0

UP Assembly


तहलका न्‍यूज ब्‍यूरो
लखनऊ:  
यूपी विधान परिषद की रिक्त 13 सीटों के लिए शुक्रवार सुबह 9 बजे से वोटिंग शुरू हो चुकी है। इन सीटों के लिए 14 प्रत्याशी मैदान में हैं। 402 विधायक परिषद की 13 सीटों के लिए वोट डालेंगे।


इस बीच ‘क्रास वोटिंग’ की आशंका को बल देते हुुए पीस पार्टी के अध्यक्ष डॉ.अय्यूब ने कांग्रेस को समर्थन देने का एलान किया है। साथ ही उन्‍होंने कहा कि विधानसभा में जमकर कॉस वोटिंग हो रही है।


विधान परिषद चुनाव में वोटिंग के बाद सपा विधायक गुड्डू पंडित ने बयान दिया कि मैंने अपनी बुद्धि से काम किया है। अपनी रक्षा में हाथ न उठाए, कोई सिर पर वार करेगा तो जवाब देंगे। बता दें कि सपा के दो विधायकों गुड्डू पंडित और मुकेश शर्मा बीजेपी नेता संगीत सोम के साथ वोट डालने गए।  सूत्रों की माने तो सपा विधायक गुड्डू पंडित और मुुकेश शर्मा ने भाजपा को वोट दिया है।


इस बीच क्रास वोटिंग के सवाल पर सपा विधायक शारदा प्रताप भड़क गए और कहा कि मैनें कोई क्रॉस वोटिंग नहीं की, अफवाह उड़ाने वाले गद्दार हैं। सूत्रों की माने तो द्वितीय वरीयता क्रम में कई विधायकों ने क्रास वोटिंग किया है। BSP से निलम्बित विधायक राजेश त्रिपाठी ने भाजपा को वोट दिया है।


वहीं, सूत्रो के अनुसार खबर है कि सपा विधायक रामप्रसाद चौधरी, रविदास मेहरोत्रा क्रास वोटिंग कर सकते हैं। रविदास मेहरोत्रा सपा नेताओं के संपर्क नहीं हैं। साथ प‍श्चिमी यूपी से सपा की महिला विधायक  भी क्रास वोटिंग कर सकती हैं। आरएलडी के सुदेश वर्मा ने भी क्रॉस वोटिंग की। हालांकि सुदेश वर्मा के वोट पर असमंजस है क्योंकि उन्होंने खुला वोट किया जो कि नियम विरुद्ध है। इस वजह से उनका वोट कैंसिल हो सकता है।


निर्दलीय विधायक फतेह बहादुर सिंह ने कहा कि सपा में बहुत असंतोष है। सपा से बर्खास्त विधायक रामपाल का बयान-सपा के एक दर्जन विधायको ने क्रासवोटिंग की है।


इस बीच कैबिनेट मंत्री शिवपाल सिंह यादव ने कहा कि सपा के सभी प्रत्‍याशी जीत रहें हैं। जिन विधायकों ने क्रास वोटिंग की है उनके खिलाफ पार्टी कार्रवाई करेगी। शिवपाल यादव ने कहा कि अमर सिंह 12 जून को प्रेस वार्ता करेंगे और सभी सवालों का जवाब देंगे।


सूत्रों के मुताबिक बीजेपी ने जबरदस्त फील्डिंग की है, जितनी भी क्रॉस वोटिंग हो रही है, वह सभी बीजेपी के पक्ष में जा रहे हैं। हालांकि बीजेपी पर हॉर्सट्रेडिंग का भी आरोप लग रहे हैं। कहा जा रहा है कि बीजेपी ने सत्ता पक्ष से लेकर अन्य पार्टियों को अपने पक्ष में करने के लिए खरीद-फरोख्त का सहारा लिया है। हालांकि बीजेपी के सुरेश खन्ना ने सभी आरोपों से इनकार करते हुए कहा है कि अपने मन की बात सुनकर वोट डालें।


बता दें कि विधानभवन में सुबह 9 से शाम 4 बजे तक वोट पड़ेंगे। शाम 5 बजे से विधान परिषद चुनाव के मतों की गणना होगी।


सत्तारूढ़ सपा ने बलराम यादव, जगजीवन प्रसाद, कमलेश पाठक, बुक्कल नवाब, यशवंत सिंह, राम सुंदर दास निषद, रणविजय सिंह और शत्रुघ्न प्रकाश को चुनावी मैदान में उतारा है।


बहुजन समाज पार्टी (बसपा) ने अतर सिंह राव, सुरेश कश्यप और दिनेश चंद्र को चुनावी मैदान में उतारा है, जबकि कांग्रेस ने दीपक सिंह और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने भूपेंद्र सिह व दया शंकर सिंह पर चुनावी दांव खेला है।

सपा को अपने आठ उम्मीदवारों के लिए 232 विधायकों के समर्थन की जरूरत है, लेकिन ऐसी खबरें हैं कि इनमें से कई विधायक पार्टी लाइन से बाहर जाकर 'क्रॉस वोटिंग' कर सकते हैं।

सपा ने इस तरह की आशंकाओं के बीच गुरुवार को विधायकों के लिए रात्रिभोज का आयोजन किया, जिसमें पार्टी के अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव स्वयं सक्रिय रूप से मेजबानी की।

बसपा ने तीन उम्मीदवारों को चुनावी मैदान में उतारा है। पार्टी के 80 विधायक हैं, जबकि उसे सात अतिरिक्त विधायकों की जरूरत है।

भाजपा के 41 विधायक हैं, जिससे उसके केवल एक उम्मीदवार की जीत हो सकती है, लेकिन उसने एक अन्य उम्मीदवार खड़ा किया है। उसकी नजर अपना दल, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) और एक निर्दलीय विधायक के साथ-साथ कुछ अन्य विधायकों द्वारा पार्टी लाइन से बाहर जाकर मतदान करने पर है।

कांग्रेस को अपने एकमात्र उम्मदीवार के जीत की उम्मीद है। उसके विधानसभा में 29 विधायक हैं।

राष्ट्रीय लोक दल (रालोद) ने फैसला किया है कि उसके आठ में से चार विधायक कांग्रेस के लिए मतदान करेंगे, जबकि बाकी सपा के उम्मीदवारों को समर्थन देंगे।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top