Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

#TalkToAK: केजरीवाल ने मोदी सरकार की नीतियों पर उठाए गंभीर सवाल

 Anurag Tiwari |  2016-07-17 08:02:01.0

talk_to_akतहलका न्यूज ब्यूरो
नई दिल्ली. पीएम नरेंद्र मोदी की तरह दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने रविवार को 11 बजे जनता से बातचीत के लिए अपना टॉकशो लॉन्च कर दिया। 'Talk to AK' प्रोग्राम के जरिए केजरीवाल ने अपने कामकाज का रोडमैप दिखाया तो साथ ही केंद्र सरकार की नीतियों को भी आड़े हाथों लिया। केजरीवाल ने कहा कि अगर अच्छी नीयत वाली सरकार आ जाए तो सब कुछ अच्छा हो सकता है। हमने दिल्ली में बहुत सी चीजों से टैक्स हटाया है। बच्चों के अच्छे भविष्य के लिए सरकारी स्कूल में 8000 क्लास रूम और 100 नए स्कूल बनवाए गए हैं।' उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार गरीब से गरीब बच्चे को एक अच्छा भविष्य देना चाहती है।


नो डिटेंशन पॉलिसी खत्म करे केंद्र'


दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा कि नो डिटेंशन पॉलिसी जिसमें 9वीं तक के बच्चे पास हो जाते थे, यह हमारे देश के एजुकेशन सिस्टम के लिए खतरा है। उन्होंने कहा, 'मेरी केंद्र सरकार से गुजारिश है कि स्कूल में नो डिटेंशन पॉलिसी को खत्म किया जाए।'


विज्ञापन को लेकर उठे सवाल
एक शख्स ने कार्यक्रम के दौरान केजरीवाल से सवाल किया कि वे एक ओर इस बात का आरोप लगाते हैं कि मोदी सरकार उन्हें काम नहीं करने दे रही, दूसरी ओर बड़े-बड़े विज्ञापनों के जरिए यह बताया जा रहा कि दिल्ली में विकास कार्य तेजी से हो रहे हैं, ऐसे में यह दोतरफा रवैया क्यों?


'दिल्ली बदल रही है, ये सबको बताना जरूरी'
इसके जवाब में केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली सरकार जो कुछ भी काम कर रही है वह अपने प्रयासों से कर रही है। उन्होंने कहा, 'हमने जो काम किए हैं लोग उन्हें जाकर देख सकते हैं। कुछ भी गलत विज्ञापन नहीं किया जा रहा। मोहल्ला क्लीनिक जैसे व्यवस्था की तारीफ हर जगह हो रही है।' दूसरे राज्यों में छपने वाले दिल्ली के विज्ञापनों पर केजरीवाल ने कहा कि पूरा देश जानना चाहता है कि दिल्ली में क्या हो रहा है। दिल्ली में अच्छा काम चल रहा है, यह सबको बताना जरूरी है, जिससे हर जगह बदलाव आए।


स्पोर्ट्स को बढ़ावा देने के लिए मिशन 100
केजरीवाल ने कहा, 'हमने खेल को बढ़ावा देने के लिए कई प्रोजेक्टस लॉन्च किए हैं। जो जमीन खाली पड़ी रहती थी वहां अब सरकारी स्कूल के बच्चों को फ्री ट्रेनिंग दी जाती हैं। सारे विधानसभा में कबड्डी का आयोजन किया। स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी लेकर आ रहे हैं। आप अगर चार साल भौतिकी पढ़ते हैं तो आपको उसकी डिग्री मिलती है। उसी तरह स्पोर्ट्स खेलने पर और उसकी शिक्षा लेने पर उसकी डिग्री दी जाएगी। मिशन 100 का प्रोग्राम है। जिसके तहत नेशनल और इंटरनेशनल लेवल पर खिलाड़ियों को तैयार करने के लिए ट्रेनिंग का सारा खर्चा दिल्ली सरकार उठाएगी। उनके ट्रेनिंग, पढ़ाई, ट्रैवल, रहने खाने सब का खर्च।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top