Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

गोपाल राय ने दिया परिवहन मंत्री पद से इस्तीफ़ा, केजरीवाल पहुंचे मनाने

 Anurag Tiwari |  2016-06-14 08:26:37.0



[caption id="attachment_88492" align="aligncenter" width="1280"]File Photo: दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल और गोपाल राय File Photo: दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल और गोपाल राय[/caption]

तहलका न्यूज़ ब्यूरो


नई दिल्ली. आम आदमी पार्टी को बड़ा झटका लगा है, दिल्ली सरकार के परिवहन मंत्री गोपाल राय ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। उनकी जगह अब सत्येंद्र जैन परिवहन मंत्रालय का कामकाज संभालेंगे। सत्येंद्र जैन के पास पहले से ही स्वास्थ्य मंत्रालय का भी जिम्मा है।

उपेक्षा से आहत हो दिया इस्तीफा!


हालाँकि गोपाल राय ने कहा था कि वह खराब स्वास्थ्य के कारण काम के लिए ज्यादा समय नहीं निकाल पा रहे हैं और इसलिए इस्तीफा देना चाहते हैं। गोपाल राय प्रीमियम बस सर्विस योजना को लेकर करप्शन के आरोपों से भी घिरे हैं और इस वजह से उनका इस्तीफा विपक्ष के निशाने पर है। वहीँ पार्टी के सूत्रों का कहना है कि गोपाल राय सरकार में अपनी उपेक्षा से नाराज चल रहे थे, जिसके कारण उन्होंने इस्तीफा दिया है। वे विधायकी पद से भी इस्तीफा देने का मूड बना चुके हैं।

अरविंद केजरीवाल पहुंचे मनाने


गोपाल राय के इस्तीफे के बाद दिल्ली के सीएम उनके घर पहुंचे हैं और उन्हें मनाने की कोशिश कर रहे हैं। बताया जा रहा है कि गोपाल राय करप्शन का चार्ज लगने के बाद से पार्टी में ही अलग-थलग पड़ गए थे। सूत्रों का का कहना है कि उनके विभाग के अधिकारियों ने भी उनके निर्देशों की अनदेखी करना शुरू कर दिया था। इन्हीं कारणों से आहत होकर उन्होंने अपने पद से इस्तेफ्फा दे दिया है।

मीडिया को बताया हेल्थ ग्राउंड पर दिया इस्तीफा


वहीँ गोपाल राय ने असंतुष्ट होकर इस्तीफा देने की ख़बरों को निराधार बाटते हुए कहा कि वे स्वास्थ्य कारणों की वजह वह इन दिनों मंत्रालय को पूरा समय नहीं दे पा रहे थे। इसलिए उन्होंने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से उन्हें कुछ समय के लिए पदमुक्त करने की अपील की थी। पिछले महीने ही राय ने अपनी एक बड़ी सर्जरी कराई है। पिछले 17 साल से उनके गर्दन में एक बुलेट फंसी थी, जिसे सर्जरी के बाद निकाल दिया गया। इस वजह से उनका शरीर ठीक से काम नहीं कर पाता है। डॉक्टरों ने भी सर्जरी के बाद उन्हें ज्यादा से ज्यादा आराम करने की सलाह दी है।

संकट में है आप की दिल्ली सरकार


गोपाल राय का इस्तीफा ऐसे वक्त में आया है जब राष्ट्रपति ने आम आदमी पार्टी की सरकार के विधेयक को खारिज कर दिया है और पार्टी 21 विधायकों पर पहले ही खतरा मंडरा रहा है। ऐसे में ऐंटी करप्शन ब्यूरो (एसीबी) के समक्ष पेश होने से ठीक पहले गोपाल राय का इस तरह इस्तीफा देना कई सवाल खड़े कर रहा है। एसीबी के सर्वोच्च अधिकारी मुकेश मीणा कह चुके हैं कि परिवहन मंत्री गोपाल राय से भी ज़रूरत पड़ने पर पूछताछ की जा सकती है।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top