Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

डोनाल्ड ट्रम्प का आरोप, अमर सिंह ने दी हिलेरी क्लिंटन को रिश्वत

 Anurag Tiwari |  2016-06-25 11:12:36.0

Donald Trump, Hillary Clinton, Amar Singh, Clinton Foundation, Indo-US Nuclear Deal

वॉशिंगटन. अमेरिका के प्रेसिडेंशियल इलेक्शन में अब इंडो अमेरिकन सिविल न्यूक्लियर डील भी आरोप-प्रत्यारोप का मुद्दा बन गया है। रिपब्लिकन कैंडिडेट डोनाल्ड ट्रम्प ने इस मुद्दे पर डेमोक्रेट हिलेरी क्लिंटन को घेरा है। ट्रम्प का आरोप है कि हिलेरी क्लिंटन ने इंडो-अमेरिकन सिविल न्यूक्लियर डील पर सपोर्ट करने के लिए इंडियन पॉलिटिशियन्स और कुछ संस्थाओं से से पैसे लिए थे। अमेरिकी मीडिया में आई खबरों के अनुसार ट्रम्प ने दावा किया है कि हिलेरी ने अमर सिंह से इस डील पर सपोर्ट के लिए भारतीय मुद्रा में 25 करोड़ रु। लिए। ट्रम्प ने अपने आरोप के समर्थन में 35 पेज की बुकलेट छपवा कर बंटवाई भीहै।

 अमर पहुंचे थे अमेरिका लॉबिंग करने



अखबार 'द न्यूयॉर्क टाइम्स' में छपी रिपोर्ट के अंसार ट्रम्प ने आरोप लगाया है कि 2008 की शुरुआत में समाजवादी पार्टी के नेता और उस राज्यसभा के मेम्बर अमर सिंह ने इंडो-यूएस सिविल न्यूक्लियर डील पर समर्थन के एवज में 10 से 50 लाख डॉलर के बीच की रकम हिलेरी फाउंडेशन को दी थी। ट्रम्प का आरोप है कि अमर सिंह समर्थन जुटाने के लिए 2008 में यूएस दौरे पर भी आए थे। ट्रम्प के अनुसार तब हिलेरी सीनेटर थीं और उन्होंने अमर सिंह को विश्वास दिलाया था कि डेमोक्रेटिक पार्टी इस डील का विरोध नहीं करेगी। हालांकि ट्रम्प से पहले यह आरोप कई अमेरिकी नेता लगा चुके हैं और हिलेरी इन आरोपों का खंडन कर चुकी हैं।

कॉन्फेडरेशन ऑफ इंडियन इंडस्ट्री ने भी दी हिलेरी को रिश्वत

अपने कैम्पेन के दौरान टर्म ने यह भी आरोप लगाया कि इसी इंडो-यूएस-सिविल नुक्लियर डील पर भारत के लिए समर्थन जुटाने के लिए कॉन्फेडरेशन ऑफ इंडियन इंडस्ट्री (CII) ने भी 5 से 10 लाख डॉलर के बीच की रकम हिलेरी फाउंडेशन में जमा कराई थी। इसके अलावाट्रम्प का यह भी आरोप है कि इंडियन-अमेरिकी राज फर्नांडो पर भी आरोप है कि उन्होंने 10 से 50 लाख डॉलर हिलेरी फाउंडेशन में जमा कराए।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top