Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

यूपी में लॉ एण्‍ड ऑर्डर ध्‍वस्‍त है: राजनाथ

 Girish |  2017-02-10 05:33:50.0

यूपी में लॉ एण्‍ड ऑर्डर ध्‍वस्‍त है: राजनाथ

तहलका न्‍यूज ब्‍यूरो
लखनऊ: देश के गृहमंत्री और लखनऊ से सांसद राजनाथ सिंह ने शुक्रवार को कहा कि उत्‍तर प्रदेश में लॉ एण्‍ड ऑर्डर पूरी तरह ध्‍वस्‍त है। यूपी में विकास और सुशासन नाम की कोई चीज नहीं रह गई। यूपी में अपराध के आंकड़े बढ़े हैं। यूपी में प्रतिदिन 13 हत्याएं होती हैं, हर दिन 9 रेप होते हैं, कई दंगे हुए हैं। ये मैं नहीं क्राइम रिकॉर्ड बता रहे हैं। इंसान झूठ बोल सकता है मगर आंकड़े कभी झूठ नही बोलते।

उन्‍होंने कहा कि सभी दल मिलकर बीजेपी के खिलाफ साजिश कर रहे हैं। लेकिन यूपी में बीजेपी की पूर्ण बहुमत की सरकार बनेगी। यूपी की जनता ने बीजेपी को विधानसभा चुनाव में एक मात्र विकल्‍प मान लिया है। इससे पहले यूपी में बीजेपी ने बेहतर शासन दिया।

उन्‍होंने कहा कि बीएसपी हारी हुई लड़ाई लड़ रही है। बसपा यूपी में इस कदर हार गई है कि अब जातिगत वोट माँग रही है। प्रजातंत्र में क‌िसी भी सरकार से ऐसी उम्मीद नहीं की जा सकती। उन्होंने कहा, हमारा देश बड़ा है, विविधताओं से भरा हुआ है, इसके बाद भी भारत एक है। इतने बड़े देश को जाति मजहब के नाम पर नहीं चलाया जा सकता। सभी भारतीय परिवार के सदस्य हैं। हम सबको लेना चाहते हैं।उन्‍होंने कहा कि सपा और बसपा दोनों प्रेशर में आ चुकीं हैं। वहीं, राजनाथ स‌िंह ने सपा-कांग्रेस के गठबंधन पर भी न‌िशाना साधा और क‌ि ये गठबंधन अवसरवादी है।

रेनकोट मामले पर भी राजनाथ ने सफाई दी और कहा, रेनकोट के मामले में हमारे प्रधानमंत्री ने किसी की अवमानना नही की, हम अपने सभी पूर्व प्रधानमंत्रियों की इज्जत करते हैं। राजनाथ स‌िंह ने कहा, इतने घोटालों के बाद भी मनमोहन स‌िंह पर कोई दाग नहीं आया, ये बात इसी परिपेक्ष्य में कही गई थी। उन्होंने कहा क‌ि छोटी सी बात को तूल न द‌िया। इसके साथ ही भाजपा से मुख्यमंत्री चेहरा न सामने आने पर उन्होंने कहा क‌ि ये रणनीत‌ि के तहत क‌िया गया है।
वहीं, उन्होंने ये भी कहा, यूपी में जब बीजेपी की सरकार बनेगी, तो मैं मुख्यमंत्री से कहूंगा कि श्रवण साहू हत्याकांड की जांच सीबीआई से कराएं। बता दें क‌ि लखनऊ में बेटे की हत्या के बाद इंसाफ की लड़ाई लड़ रहे प‌िता श्रवण साहू की भी हत्या कर दी गई। इस मामले में पुल‌िस की बड़ी लापरवाही सामने आई है। हाईकोर्ट ने यूपी सरकार से भी सवाल क‌िए हैं।

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top