Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

अखिलेश जी आप जिनकी गोद में बैठे हो उन्होंने आपके पिता की हत्या की साज़िश रची थी

 shabahat |  2017-02-15 15:37:43.0

अखिलेश जी आप जिनकी गोद में बैठे हो उन्होंने आपके पिता की हत्या की साज़िश रची थी

डिम्पल के संसदीय क्षेत्र में अखिलेश को यह नसीहतें दे गये प्रधानमंत्री

तहलका न्यूज़ ब्यूरो

लखनऊ. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज अखिलेश के गढ़ में जाकर अखिलेश को चुनौती दी. कांग्रेस के साथ गठबंधन पर तंज़ करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि इस बार यूपी को तबाह करने के लिये दो कुनबे जुड़ गये हैं. मुख्यमंत्री अखिलेश यादव पर आज उन्होंने विभिन्न प्रकार के तीर छोड़े. यहाँ तक कहा कि अखिलेश तो जाकर उनकी गोद में बैठ गये हैं जिन्होंने उनके पिता मुलायम सिंह यादव की हत्या की साज़िश रची थी.

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कन्नौज में कहा कि आज अचानक उन्हें 4 मार्च 1984 की याद आ गई. यह वह तारीख है जब मुलायम ने लोहिया के विचारों को लेकर कांग्रेस के खिलाफ लड़ाई छेड़ी थी और कांग्रेस ने मुलायम पर गोलियां चलवा दी थीं. उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने मुलायम की हत्या का गंभीर प्रयास किया था लेकिन वह बच गए. इस घटना के बाद लोकतांत्रिक मोर्चा मुलायम के समर्थन में आगे आया. पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह और अटल बिहारी बाजपेयी ने उनकी रक्षा के लिए आन्दोलन छेड़ा. कांग्रेस के खिलाफ 28 मार्च को एक बड़ी रैली हुई और कांग्रेस की सरकार हिल गई. आज मुलायम के पुत्र अखिलेश उसी कांग्रेस की गोद में बैठ गये हैं.

कन्नौज के गुरसहायगंज स्थित मिलिट्री ग्राउंड में आयोजित 12 विधानसभा सीटों के लिये आयोजित जनसभा में प्रधानमन्त्री ने भाजपा उम्मीदवारों के लिए वोट मांगे. प्रधानमंत्री ने यहाँ अपने उम्मीदवारों के लिये वोट मांगने से ज्यादा समय समाजवादी कुनबे पर हमले करने में बिताया. अपनी बातें उन्होंने अपने सुपरिचित अंदाज़ में कीं. एक-एक कर वह तीरों की बारिश करते रहे.

उन्होंने कहा कि यूपी की राजनीति में फिल्म चल रही है. हर फिल्म की एक विशेषता होती है. लेकिन हर फिल्म में यह बात कामन होती है कि इंटरवल तक दो जानी दुश्मन एक दूसरे से भिड़ते हैं और उसके बाद दुश्मन आपस में मिल जाते हैं. यूपी के राजनीतिक मंच पर भी चुनाव से पहले ऐसी ही एक फिल्म चल रही है.

कांग्रेसी पहले अखिलेश सरकार का कच्चा चिट्ठा खोलते रहे, 27 साल यूपी बेहाल के नारे लगाते रहे. चुनाव की घोषणा होते-होते फिल्म का इंटरवल हो गया और उसके बाद दूसरी फिल्मों की तरह यहाँ भी दोनों दुश्मन एक हो गए. उन्होंने कहा कि इस चुनाव में कांग्रेस ने एक पैर सपा के साथ बाँधा है तो दूसरा बसपा से बाँध रखा है.

प्रधानमंत्री ने अखिलेश यादव को चेतने की नसीहत देते हए कहा कि आप अपने पिता की तो सुन नहीं रहे हो लेकिन कम से कम यह तो देख लो कि कांग्रेस का एक पैर बसपा के साथ भी बंधा है. सपा और बसपा पर एक साथ चुटकी लेते हुए उन्होंने कहा कि यूपी में पांच साल जब मायावती की सरकार थी तो अखिलेश मायावती के भ्रष्टाचार के गीत गाते थे. फिर अखिलेश की सरकार आ गई तो मायावती अखिलेश के भ्रष्टाचार के गीत गाने लगीं. अब सारे भ्रष्टाचारी एक साथ चुनाव मैदान में डुगडुगी पीटने में लगे हैं.

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top