Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

टिकट बंटवारे से भाजपा में भड़का असंतोष, कहीं पुतला फूंका तो कहीं सांसद बने बंधक

 Utkarsh Sinha |  2017-01-25 14:51:30.0

टिकट बंटवारे से भाजपा में भड़का असंतोष, कहीं पुतला फूंका तो कहीं सांसद बने बंधक


तहलका न्यूज ब्यूरो

लखनऊ. टिकटों के बंटवारे से भाजपा में बढ़ा असंतोष सड़क से ले कर सोशल मीडिया तक और जिले से ले कर प्रदेश कार्यालय तक दिखाई दे रहा है. लखनऊ स्थित प्रदेश मुख्यालय में तो प्रदेश अध्यक्ष केशव मौर्य और संगठन मंत्री सुनील बंसल के खिलाफ मुर्दाबाद के नारे तक लग गए, तो वहीँ फैजाबाद और आंबेडकर नगर में पार्टी कार्यालय पर जिला अध्यक्ष को ही बंधक बना लिया गया.

टिकटों के बितरण से असंतुष्ट भाजपाइयों ने फैजाबाद में सांसद लल्लू सिंह और जिलाध्यक्ष को कुछ देर के लिए बंधक बना लिया. बस्ती में सांसद हरीश दिवेदी और संतकबीर नगर में सांसद शरद त्रिपाठी के घरो के सामने उग्र प्रदर्शन हुए. इन दोनों पर कार्यकर्ताओं की उपेक्षा कर चहेते बाहरियों को टिकट दिलाने के आरोप लगे.

आरोपों से खुद पार्टी अध्यक्ष केशव मौर्या भी नहीं बच सके है. कौशाम्बी और इलाहबाद में उनके खिलाफ हुए प्रदर्शनों में यह भी आरोप लगा कि टिकटों के बंटवारे में बड़े पैमाने पर पैसे का खेल भी हुआ.

विरोध प्रदर्शन की आंच देवरिया के सांसद कलराज मिश्र और सलेमपुर के सांसद रविन्द्र कुशवाहा तक भी पहुंची. बरहज से दावेदार रहे दीपक मिश्र शाका के समर्थकों ने केन्द्रीय मंत्री कलराज मिश्र तो विजय लक्ष्मी गौतम के समर्थकों ने सलेमपुर के सांसद रविन्द्र कुशवाहा का पुतला फूंका. इन दोनों नेताओं ने निर्दल चुनाव लड़ने की भी घोषणा की है. बरहज विधानसभा क्षेत्र के करूअना चौराहे पर वहां से टिकट मांग रहे पूर्व मंत्री स्व दुर्गा प्रसाद मिश्र के पुत्र दीपक मिश्र शाका के समर्थकों ने केन्द्रीय मंत्री कलराज मिश्र का पुतला फूंका. शाका ने टिकट कटने के लिए कलराज मिश्रा को जिम्मेदार ठहराया.

सोशल मीडिया भी इस असंतोष को खूब हवा दे रहा है. टिकट कटने के बाद कुशीनगर के खड्डा विधानसभा से दावेदारी कर रहे हिन्दू युवा वाहिनी के प्रदेश अध्यक्ष सुनील सिंह और भाजपा के फायर ब्रांड प्रवक्ता रहे आईपी सिंह ने फेसबुक पर अपना दर्द बयांन करने से परहेज नहीं किया.

बड़ी संख्या में इन विद्रोहियों के मुखर होने से भाजपा की संभावनाएं भी क्षीण हो रही है. पार्टी के सामने अब इस असंतोष को ख़त्म करने की नयी चुनौती आ गयी है.

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top