Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

OMG! जानिए क्‍यों डीएम ने खरीदा 1550 रुपए किलो करेला

 Girish Tiwari |  2016-06-09 09:20:36.0

kinjal singh


तहलका न्‍यूज ब्‍यूरो
फैजाबाद:
अक्सर सुर्खियों में रहने वाली भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) की अधिकारी और यूपी के फैजाबाद जिले की डीएम किंजल सिंह एक बार फिर सुर्खियों में हैं। डीएम किंजल सिंह का एक गरीब बेवा वृद्ध की मदद करने का तरीका चर्चा का विषय बना हुआ है। डीएम ने पहले तो महिला से 1550 रुपए किलो करेला खरीदा। साथ ही रात 11:00 बजे उसके घर पहुंच कर उसकी अन्‍य जरूरतों की चीजों का भी इंतजाम करवाया। 


दरअसल, फैजाबाद के सब्जी मंडी इलाके में गरीब बेवा वृद्ध मूना बैठकर करेला बेच रही थी। इसी बीच जिलाधिकारी किंजल सिंह अपने अधिकारियों के काफिले के साथ इस इलाके में मौजूद मस्जिद का निरीक्षण कर लौट रही थी कि अचानक उनकी नजर एक वृद्ध महिला की बेबसी पर पड़ी, उन्होंने मूना से 1 किलो करेले का दाम पूछा और दाम पूछने के बाद मूना की बताई कीमत के अनुसार 1 किलो करेला भी लिया, लेकिन मूना की खुशी का ठिकाना तब ना रहा जब 50 रुपये किलो करेले की कीमत मूना को 1550 रुपए मिली।


डीएम साहिबा ने मूना से करेला खरीदा और उसका नाम पता अधिकारियों से नोट करवा कर चली गईं। अपनी जिंदगी का सबसे बड़ा मुनाफे का सौदा कर खुशी खुशी घर पहुंची मूना अपनी 17 वर्षीय नातिन रितु के साथ खाना खाकर सोने की तैयारी में थी कि अचानक रात के 11:00 बजे अधिकारियों की गाड़ियों का काफिला मलीन बस्ती ककरही बाज़ार स्थित मूना के घर के सामने रुका और डीएम किंजल सिंह अधिकारियों के साथ मूना के झोपड़े में दाखिल हुईं।


अपने घर में इतने अधिकारियों को अचानक देख मूना घबरा गई लेकिन कुछ ही देर में डीएम किंजल सिंह ने जब मूना से उसकी तकलीफों के बारे में बातचीत करनी शुरू की तो मूना को विश्वास हो गया कि आज उसकी जिंदगी में कुछ नया होने वाला है। घर की हालत देखने से आहत डीएम किंजल सिंह ने साथ मौजूद अधिकारियों को तत्काल मूना के घर में 5 किलो अरहर की दाल, 40 किलो चावल, 50 किलो गेहूं, 20 किलो आटा मंगवाने के निर्देश दिए।


रात के 12:00 बजे डीएम साहिबा का यह निर्देश पालन करने में अधिकारियों के भी हाथ पांव फूल गए। शहर में सभी दुकानें बंद हो चुकी थीं, लेकिन डीएम साहिबा ने अधिकारियों से साफ कह दिया कि जब तक मूना के घर में राशन नहीं आएगा तब तक वह यहां से नहीं जाएंगी, जिसके बाद आधे घंटे के अंदर अधिकारियों ने कोटेदारों का दरवाजा खटखटा कर राशन की बोरियां सरकारी गाड़ी से लाकर मूना के घर में रख दी जिसे देख मूना की खुशी का ठिकाना न रहा। डीएम किंजल सिंह के निर्देश पर मूना को उज्वला योजना के तहत ऐसा चूल्हा और सिलेंडर, एक टेबुल फैन सोने के लिए तख़्त पहनने के लिए दो साड़ी और चप्पल भी उपलब्ध कराया गया।


साथ ही बेहद गरीबी में अपनी जिंदगी काट रही 75 वर्षीय वृद्ध महिला मूना और उसकी नातिन की तकलीफ़ों को देखते हुए जिला प्रशासन द्वारा मूना को सरकारी आवास और हैंडपंप की सुविधा दी जाएगी, जिससे वह अपना जीवन आसानी से बिता सकें। वहीं सरकारी तौर पर इतनी बड़ी मदद पाकर मूना और उसकी नातिन फूली नहीं समा रही हैं और डीएम किंजल सिंह को दुआएं दे रही हैं। जिले की मुखिया का यह कदम शहर में चर्चा का विषय बन गया और अब तो हर गरीब यही कह रहा है की काश हमारी तरफ भी डीएम किंजल सिंह की नजर पड़ जाए और हमारी भी कुछ मदद हो जाए।


  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top